Connect with us

Haryana

सड़कों पर बेलगाम दौड़ रहे हैं मौत के डंफर,​​नाके पर खड़ी SHO की गाडी को कुचलने का प्रयास, बाल-बाल बचे गाडी में बैठे तीन पुलिस कर्मी

सत्यखबर, रेवाडी (संजय कौशिक ) सरकार और प्रशासन के लाख दावों के बावजूद रेवाड़ी ओवरलोड वाहनों का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। सड़कों पर यमदूत बनकर बेलगाम दौड़ते ओवरलोड डंपरों पर प्रशासन का कोई अंकुश नहीं रह गया है। बीती रात आईजी के निर्देश पर जब पुलिस ने सख्ती दिखाई तो तेज रफ्तार एक […]

Published

on

सत्यखबर, रेवाडी (संजय कौशिक )

सरकार और प्रशासन के लाख दावों के बावजूद रेवाड़ी ओवरलोड वाहनों का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। सड़कों पर यमदूत बनकर बेलगाम दौड़ते ओवरलोड डंपरों पर प्रशासन का कोई अंकुश नहीं रह गया है। बीती रात आईजी के निर्देश पर जब पुलिस ने सख्ती दिखाई तो तेज रफ्तार एक डंपर ने टककर मारकर दरोगा की गाड़ी को ही क्षतिग्रस्त कर दिया और गाड़ी में सवार पुलिस के तीन जवान बाल बाल बचे। घटना से गुस्साई पुलिस ने दर्जनों वाहनों को रुकवाकर कुछ वाहनों की हवा निकाल दी और कुछ को पकड़ थाने ले आई। दरअसल यह घटना रेवाड़ी के बावल रोड स्थित आईओसी चौक की है, जहां बीती रात आईजी के निर्देश पर पुलिस नाकेबंदी कर शहर से गुजरने वाले ओवरलोड ​वाहनों की धरपकड़ के लिए कार्यवाही कर रही थी। तभी तेज रफ्तार एक चालक ने डंपर दरोगा की गाड़ी में ठोंक दिया। पुलिस ने भी हार नहीं मानी और कार्यवाही करते हुए दर्जनों वाहनों को पकड़ लिया। इसे लेकर पुलिस का कहना है वैसे तो यह मामला आरटीए विभाग का है, लेकिन आईजी साहब के निर्देश पर पुलिस विभाग नाकेबंदी कर ऐसे वाहनों के खिलाफ पूरी मुस्तैदी के साथ कार्यवाही कर रहा है। अब लोगो की माने तो उनका आरोप है कि यह सारा खेल प्रशासन की मिलीभगत से ही फल फूल रहा है और पैसे ले देकर कर्मचारी ही वाहनों को नाकेबंदी के बावजूद वाहनों को शहर में प्रवेश करा रहे हैं। अगर ऐसा नहीं है तो प्रशासन यह बताए कि नाकेबंदी के बावजूद ओवरलोड वाहन शहर में प्रवेश कैसे कर रहे हैं। अब देखना यह होगा कि आज हुई इस घटना के बाद प्रशासन इस मामले में क्या कार्यवाही अमल में लाता है या फिर मिलीभगत का यह खेल इसी तरह जारी रहेगा।

 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *