Connect with us

Haryana

हरियाणा की टॉपर छात्रा गुरमीत का शहर में निकाला विजयी जुलूस

एसडी कन्या स्कूल की संस्था ने प्रशस्ति पत्र व 21 हजार रूपये देकर किया सम्मानित सत्यखबर, नरवाना (सन्दीप श्योरान) :- हर वर्ष की भांति इस बार भी सनातन धर्म कन्या विद्यालय की छात्राओं ने शिक्षा के क्षेत्र में एक बार फिर अपना परचम लहराकर अपना दमखम बरकरार रखा। हरियाणा शिक्षा बोर्ड द्वारा घोषित 12वीं कक्षा […]

Published

on

एसडी कन्या स्कूल की संस्था ने प्रशस्ति पत्र व 21 हजार रूपये देकर किया सम्मानित

सत्यखबर, नरवाना (सन्दीप श्योरान) :- हर वर्ष की भांति इस बार भी सनातन धर्म कन्या विद्यालय की छात्राओं ने शिक्षा के क्षेत्र में एक बार फिर अपना परचम लहराकर अपना दमखम बरकरार रखा। हरियाणा शिक्षा बोर्ड द्वारा घोषित 12वीं कक्षा के परिक्षा परिणाम में स्कूल की छात्रा गुरमीत पुत्री सतबीर निवासी गांव उझाना द्वारा 500 में से 489 अंक लेकर प्रदेश में कलां संकाय में प्रथम स्थान व ओवरआल द्वितीय प्राप्त कर स्कूल के साथ-साथ पूरे जिला का नाम रोशन किया है। इस मौके पर स्कूल में संस्था द्वारा सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें संस्था के सचिव जियालाल गोयल ने गुरमीत को प्रशस्ति पत्र व 21 हजार रूपए देकर सम्मानित किया तथा घोषणा की कि आगामी बोर्ड की परीक्षाओं में पहले 3 स्थान हासिल करने वाली छात्राओं को संस्था के स्कूल में शिक्षा ग्रहण करने पर खर्च संस्थान के द्वारा वहन किया जाएगा।

प्राचार्या मंजू मित्तल ने बताया कि सम्मान समारोह में स्कूल व जिला स्तर पर प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त करने वाली छात्राओं को भी विशेष तौर पर सम्मानित किया गया। प्राचार्या मंजू मित्तल ने बताया कि स्कूल की 12वीं कक्षा का परीक्षा परिणाम भी शत प्रतिशत रहा। विद्यालय की 201 छात्राओं में से 121 छात्राओं ने मैरिट सूची में स्थान हासिल किया। इस मौके पर विद्यालय सरंक्षक लाला गौरी शंकर, प्रधान सुरेश सिंघल, उप प्रधान राजकुमार गोयल, कैशियर जवाहरलाल गोयल, वरिष्ठ सदस्य सीता राम सहित विद्यालय की प्राचार्या व विद्यालय का पूरा स्टाफ मौजूद रहा।

टॉपर छात्रा का शहर में निकाला विजयी जुलूस
हरियाणा प्रदेश में प्रथम आने पर छात्रा गुरमीत का फूल मालाओं से स्वागत किया गया और उसके बाद खुली जीप में ढोल-नगाड़ों के साथ विजयी जुलूस निकाला। इस मौके पर स्कूल की छात्राओं ने ढोल की थाप पर नाचकर अपनी खुशी का इजहार किया। शहर में गुरमीत के प्रथम आने की चर्चा हर व्यक्ति की जुबान पर थी और कह रहे थे कि बेटी अब मां-बाप पर बोझ नहीं हैं, बल्कि उनका नाम रोशन कर रहे हैं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *