Connect with us

Chandigarh

हरियाणा में भाजपा के साथ चलने की जजपा की रणनीति, जानिए पुरी खबर

Published

on

सत्यखबर, चढ़ीगढ़

अजय चाैटाला ने जननायक जनता पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष बनने के बाद भविष्‍य की सियासी रणनीति को लेकर बड़े संकेत दिए हैं। हरियाणा में जजपा अपने गठबंधन साथी भाजपा के साथ चलेगी और उसके साथ दूध-शक्‍कर का रिश्‍ता बनाएगी। इसके साथ ही जजपा हरियाणा से बाहर अन्‍य राज्‍योंं में भी अपना विस्‍तार करेगी।बता दे की बरोदा उपचुनाव और शहरी निकायों के चुनावों से पहले जननायक जनता पार्टी (जजपा) नए क्लेवर में आने लगी है। संगठन को पूर्व सांसद डॉ. अजय सिंह चौटाला संभालेंगे तो सरकार में कमान उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के हाथों में रहेगी। संगठन की ओर से पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजय चौटाला सितंबर में पूरा प्रदेश नापेंगे तो पार्टी उपाध्यक्ष व डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला हर जिले में जाकर कार्यकर्ताओं की समस्याओं को सरकार के स्तर पर हल कराने का बीड़ा उठाएंगे।

इसके साथ ही जजपा नेताओं का कहना है कि प्रदेश में गठबंधन सरकार की अगुवाई कर रही भाजपा के साथ पार्टी का संबंध घी-शक्कर जैसा है। पार्टी के रणनीतिकार भाजपा से संबंध और प्रगाढ़ कर गठबंधन को लंबा चलाने की रणनीति पर चल रहे हैं। वजह यह कि जितनी जरूरत भाजपा को जजपा की है, उससे ज्यादा जरूरत जजपा को भाजपा की है। दिल्ली विधानसभा चुनाव मेें जिस तरह दोनों दलों के बीच कोई टकराव नहीं था, उसी तर्ज पर प्रदेश में बरोदा उपचुनाव और शहरी निकायों के चुनाव मिलकर लड़े जाएंगे।

जजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में कुछ इसी तरह की रणनीति बनी है। जजपा का फोकस कार्यकर्ता खासकर दलित और पिछड़े वर्ग को साथ जोडऩे पर रहेगा। इनेलो से छिटके पुराने समर्थकों को वापस लाने की जुगत में सक्रिय अभय चौटाला के जवाब में जजपा ने बड़े भाई अजय चौटाला को आगे किया है। कोरोना काल में पैरोल पर चल रहे अजय चौटाला मौके का फायदा उठाते हुए नए लोगों को पार्टी से जोडऩे का अभियान चलाएंगे।

 

1 Comment

1 Comment

  1. Pingback: फतेहाबाद में BJP के जिला उपाध्यक्ष रमेश सिंगला की कोरोना से मौत, मेदांता में थे भर्ती - Satya khabar india | Hindi News |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *