Connect with us

Haryana

हिसार की बेटी ने एमए इगलिश में किया यूनिवर्सिटी टॉप

दीक्षांत समारोह में गोल्ड मैडल किया देकर सम्मानित सत्यखबर, हिसार (विनोद सैनी) – हिसार की रहने वाली प्रज्ञा ने कुरुक्षेत्र विश्वविद्लायलय के तहत यूनिवर्सिटी स्तर पर एमए इगलिश में प्रथम स्थान लेकर गोल्ड मेडल हासिल किया है। प्रज्ञा गंभीर ने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए एमए इंग्लिश में कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में सर्वाधिक 71.4 प्रतिशत अंक प्राप्त […]

Published

on

दीक्षांत समारोह में गोल्ड मैडल किया देकर सम्मानित

सत्यखबर, हिसार (विनोद सैनी) – हिसार की रहने वाली प्रज्ञा ने कुरुक्षेत्र विश्वविद्लायलय के तहत यूनिवर्सिटी स्तर पर एमए इगलिश में प्रथम स्थान लेकर गोल्ड मेडल हासिल किया है। प्रज्ञा गंभीर ने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए एमए इंग्लिश में कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में सर्वाधिक 71.4 प्रतिशत अंक प्राप्त किए है। प्रज्ञा को कुरुक्षेत्र विश्वविद्लाय में आयोजित समारोह में मुरुथल यूनिवस्टी के कुलपति डा. राजेंद्र कुमार अनायत ने मेडल देकर सम्मानि किया है। प्रज्ञा के गोल्ड मेडल लेने पर परिजनों में खुशी का माहौल है। उल्लेनीय है कि इससे पहले भी हर कक्षा में प्रज्ञा गंभीर श्रेष्ठ प्रदर्शन करती रही है। बीए इंग्लिश ऑनर्स में प्रज्ञा गंभीर ने विश्वविद्यालय में पांचवां स्थान हासिल किया था। अपनी मेहतन व लग्न से अब वह एमए अंग्रेजी में विश्वविद्यालय में प्रथम स्थान प्राप्त करने में सफल हुई है। प्रज्ञा पढ़ाई के साथ.साथ अन्य गतिविधियों में भी सक्रिय रहती है और शास्त्रीय नृत्यए हरियाणवी ऑर्केस्ट्रा शास्त्रीय ऑर्र्केस्ट्रा की प्रतियोगिताओं में कई पुरस्कार जीत चुकी हैं। खास बात है कि प्रज्ञा की माता डॉ. रेणुका गंभीर भी अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त सितार वादिका हैं। इसके साथ साथ वे राजकीय महाविद्यालय हिसार में संगीत विषय की ऐसोसिएट प्रोफेसर हैं। प्रज्ञा गंभीर अपनी सफलता का श्रेय अपनी माता एवं सभी शिक्षकों को देती हैं जिन्होंने उन का समय.समय पर मार्गदर्शन किया।

प्रज्ञा गंभीर ने कहा कि उसके परिजनों ने शिक्षा में काफी सहायता की उसकी बहन जो कनाडा में रहती है उसने भी मुझे काफी सहयोग मिला। छात्रा ने बताया कि आज गोल्ड मैडल हासिल करने पर उसे काफी खुशी है वह आने वाले समय में नेट की परीक्षा की तैयारी करके और साथ पीएचडी करेगी। उसने अपनी मा की तरह प्रोफेसर बनने का लक्ष्य बनाया है औप वह पूरा करेगी। हरियाणा के ग्रामीण क्षेत्र में अग्रेजी का काफी अभाव है इस सवाल पर छात्रा ने कहा कि ग्रामीण इडिया नालेज की कमी है कम्यूनिकेशन स्किल की काफी कमी है और प्रैक्टीकल नालेज की जरुत है तभी हम अग्रेजी में आगे बढ पाएगे।

प्रज्ञा गंभीर की माता ने रेणुका गंभीर ने कहा कि प्रज्ञा बच्पन से काफी मेहतनी थी और दस जमा दो में अच्छे अंक लेकर कालेज का नाम रोशन किया है। उसे बडी खुशी है कि उसकी बेटी ने गोल्ड मैडल हासिल किया है उसकी बेटी भविष्य में प्रोफेसर बनाना चाहती है। प्रज्ञा पढाई के साथ सांस्कृतिक गतिविविधयों मे हिस्सा लेती रही है उन्हें पूरी उम्मीद थी कि उसकी बेटी गोलड मेडल जरुर हासिल करेगी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *