Connect with us

Haryana

​आखिर कब बुझेगी दहेज की आग

विधवा माँ को सम्मेलन में बेटी की शादी करना महंगा पड़ा सत्यखबर, रेवाड़ी (संजय कौशिक) – अगर आप भी अपनी बेटी की किसी सम्मेलन में शादी ​करने जा रहे हैं तो सावधान हो जाइए, क्योंकि दहेज के दानव वहां भी मुंह खोले खड़े हैं। कहीं ऐसा ना हो कि कहीं आपको भी किसी ऐसे ही […]

Published

on

विधवा माँ को सम्मेलन में बेटी की शादी करना महंगा पड़ा

सत्यखबर, रेवाड़ी (संजय कौशिक) – अगर आप भी अपनी बेटी की किसी सम्मेलन में शादी ​करने जा रहे हैं तो सावधान हो जाइए, क्योंकि दहेज के दानव वहां भी मुंह खोले खड़े हैं। कहीं ऐसा ना हो कि कहीं आपको भी किसी ऐसे ही दानव का शिकार ना होना पड़ जाए। जी हाँ, यह हम इसलिए कह रहे हैं कि ​रेवाड़ी में पिछले दिनों ऐसा ही एक वाक्या उस वक्त सामने आया जब शहर की रामसिंहपुरा कॉलोनी में रहने वाली एक विधवा ने गरीबी के चलते अपनी लाड़ली बेटी की शादी गत 14 जनवरी को रेवाड़ी में ही आयोजित सामूहिक विवाह सम्मेलन में की थी।

मगर शादी के कुछ दिनों बाद से ही ससुराल पक्ष के लोग दहेज की मांग को लेकर विवाहिता के साथ मारपीट करने लगे। बेटी की ओर से यह शिकायते मिलने के बाद विधवा माँ ने हालातो समझौता करते हुए पंचायती स्तर पर मामले को शांत करा दिया, लेकिन दहेज के भेडियो की मांग अब लगातार बढ़ती ही जा रही थी और बेटी को पीट-पीटकर अधमरा कर दिया। आखिरकार पीड़िता ने अपनी विधवा माँ को पूरे हालातो से अवगत कराया और वह महिला पुलिस की शरण में चली गई, लेकिन महिला सुरक्षा को लेकर दम भरने वाली रेवाड़ी की स्मार्ट महिला पुलिस ने अभी तक शिकायत पर कोई गौर ही नहीं किया।

अब मीडिया दखल के बाद महिला पुलिस हरकत में आई और पीड़िता का मैडीकल परीक्षण कराकर मामले की जाँच शुरू की है। मगर कुछ भी हो, इसे लेकर महिला पुलिस कैमरे पर बोलने को तैयार नहीं है। अब देखना होगा कि क्या महिला पुलिस पीड़िता को न्याय दिलवा पाती है या फिर उसे दहेज दानवों से न्याय पाने के लिए यूँ ही थाने के धक्के खाने को विवश होना पड़ेगा।

1 Comment

1 Comment

  1. Pingback: 쿠쿠티비

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *