Connect with us

Haryana

​​एमएसपी को लेकर मंडी में 31 दिन से जारी है धरना

किसी जनप्रतिनिधि व अधिकारी ने नहीं ली आज तक सुध सत्यखबर, रेवाड़़ी (संजय कौशिक) – सीजन के दौरान मंडियों के किसानों के साथ खरीद मामले में हो रहे भेदभाव को लेकर धरने पर बैठे स्वराज इंडिया संगठन का आज 31वां दिन है, लेकिन अभी तक किसी भी जनप्रतिनिधि अथवा अधिकारी ने उनसे यह आकर पूछने […]

Published

on

किसी जनप्रतिनिधि व अधिकारी ने नहीं ली आज तक सुध

सत्यखबर, रेवाड़़ी (संजय कौशिक) – सीजन के दौरान मंडियों के किसानों के साथ खरीद मामले में हो रहे भेदभाव को लेकर धरने पर बैठे स्वराज इंडिया संगठन का आज 31वां दिन है, लेकिन अभी तक किसी भी जनप्रतिनिधि अथवा अधिकारी ने उनसे यह आकर पूछने तक की जहमत नहीं उठाई है कि आखिर उनका दर्द क्या है, जिसे लेकर संगठन के लोगों में सरकार के प्रति भारी रोष है।

धरने पर बैठे संगठन के पदाधिकारियों का कहना है कि वे किसानों के हकों को लेकर लगातार 31 दिन से धरना दे रहे हैं। उनकी मांग है कि किसानों की खून पसीने की कमाई एमएसपी पर खरीदी जाए, जोकि उनका हक है। खरीद के पहले दिन जरूर 14 क्विंटल अनाज एमएसपी पर खरीदा गया। उसके बाद पूरे हरियाणा व राजस्थान में रेवाड़ी मंडी में सरसों की सबसे ज्यादा खरीद हुई, लेकिन उसके बाद से हाल खराब हैं।

हालांकि उनके द्वारा लगातार दिए जा रहे धरने के बाद से सरकार में भारी खलबली है और इसी के चलते नीति आयोग ने योगेन्द्र यादव को बातचीत के लिए बुलाया है। उनका कहना है कि अगर जल्द ही इसका समाधान नहीं हुआ तो अब खेतों से घर पहुंचा किसान उनके साथ मिलकर सडक़ों पर उतरने को विवश होगा।