Connect with us

Delhi

कृषि कानूनों का विरोध करते हुए टिकरी बॉर्डर पर धरना दे रहे पंजाब के किसान ने खाया था जहर

Published

on

सत्य खबर, दिल्ली

कृषि कानूनों का विरोध करते हुए टिकरी बॉर्डर पर धरना दे रहे पंजाब के किसान ने शनिवार देर शाम को जहर खा लिया था, जिसके कारण उसकी इलाज के दौरान निजी अस्पताल में मौत हो गई थी।

किसान की आत्महत्या के बाद उसकी 4 वीडियो सामने आई हैं, जो कुछ दिन पहले की बताई जा रही हैं। वीडियो में किसान बता रहा है कि वो एक हत्या के मामले में शामिल था, लेकिन हत्या का मुकद्दमा उसके बेटे पर भी दर्ज कर लिया गया था, जिसके कारण वो बेहद दुखी है।

इसी कारण वो अपनी जीवनलीला समाप्त करने जा रहा है। ये वीडियो सोनीपत पुलिस के पास भी पहुंची है, लेकिन वीडियो की ना तो अभी तक पुष्टि हुई है और ना ही मृतक के किसी परिजन ने सोनीपत पुलिस को शिकायत दर्ज करवाई है। पुलिस का कहना है कि उनके पास कोई शिकायत आती है तो वो कार्रवाई ज़रूर करेंगे

अमरिंदर के आत्महत्या के दूसरे दिन ही एक के बाद एक 4 वीडियो सामने आई हैं। इन वीडियो में अमरिंदर सिंह अपनी आत्महत्या का कारण बताते हुए कई लोगों पर आरोप लगा रहे हैं। वीडियो में अमरिंदर ने बताया है कि वो अपनी पत्नी को प्रताडि़त करता था, जिसके कारण उसकी पत्नी ने उससे तलाक लेकर किसी नरेंद्र नाम के व्यक्ति से शादी कर ली थी। ऐसे में उसने कई अन्य लोगों के साथ मिलकर नरेंद्र सिंह का कत्ल कर दिया था। इस मामले में उसके बेटे के खिलाफ भी मामला दर्ज करवा दिया गया, जिसके बाद से वो बेहद ज्यादा दुखी है, क्योंकि उसके बेटे को तो ये भी नहीं पता कि आखिर मामला क्या है।

अमरिंदर वीडियो में एक अन्य व्यक्ति पर अफीम का धंधा चलाने का आरोप लगा रहा है और इन सब बातों से दुखी होकर खुद की जीवन लीला समाप्त करने की बात कह रहा है। इस वीडियो की पुष्टि फिलहाल नहीं हुई है। साथ ही ये भी जांच का विषय है कि आखिर वीडियो कितना पुराना है। सवाल ये भी है कि अगर कारण घरेलू था तो अमरिंदर ने किसानों के धरने पर पहुंचकर जहर क्यों खाया।

बता दें कि टिकरी बॉर्डर स्थित धरना स्थल पर आंदोलन में शामिल होने आए पंजाब के जिला फतेहगढ़ क्षेत्र के गांव माछराई खुर्द निवासी अमरिंदर सिंह ने शनिवार शाम को मुख्य मंच के पास आकर जहर निगल लिया था जिससे उनकी हालत बिगड़ गई थी। उन्होंने साथियों को जहर खाने की जानकारी दी थी जिस पर तुरंत किसान नेता बलदेव सिरसा और अन्य उन्हें एंबुलैंस में बहालगढ़ रोड स्थित निजी अस्पताल में पहुंचे जहां पर उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई थी। किसान नेता बलबीर सिरसा ने बताया था कि अमरिंदर काफी आहत थे

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *