Connect with us

Haryana

कैथल SHO रिश्वतकांड :विजिलेंस पैसे नहीं कर पाई रिकवर, आज तीसरी बार मांगा जाएगा रिमांड

Published

on

सत्य खबर, कैथल

कैथल के चीका SHO को विजिलेंस द्वारा रिश्वत लेने के पैसे बरामद करने में विजिलेंस की फिर नाकाम रही। दूसरी बार के रिमांड पर भी रिश्वत के पैसों की बरामदगी नहीं कर पाई। विजिलेंस शनिवार को फिर से कोर्ट में पेश कर रिमांड की मांग करने जा रही है। अब कोर्ट SHO का तीसरी बार रिमांड देगी या नहीं, ये देखने वाली बात है। बुधवार को विजिलेंस ने SHO जयवीर शर्मा को चीका थाना से 5 हजार रुपये की रिश्वत लेने के आरोप में मौके पर पकड़ा था, लेकिन रिश्वत के रुपये SHO से बरामद नहीं हुए। पैसे बरामद करने के लिए साढ़े 5 घंटे पूछताछ के बाद अंबाला ले गई। केस दर्ज कर गुरुवार को कोर्ट में पेश कर 1 दिन का पुलिस रिमांड लिया। शुक्रवार को दोबारा से 1 दिन का पुलिस रिमांड लिया। दोनों ही रिमांड के बाद पैसे नहीं मिले।

 

ऑडियो के आधार पर किया केस दर्ज

 

विजिलेंस ने ऑडियो के आधार पर आरोपी SHO जयवीर शर्मा के खिलाफ भ्रष्टाचार का केस दर्ज किया है। इसके बाद कैथल कोर्ट के एसीजेएम प्रवेश सिंगला की कोर्ट में पेशकर दो बार रिमांड कर चुके हैं। इस दौरान विजिलेंस ने कोर्ट के समक्ष रिकार्डिंग की हुई 20-25 सेंकेंड की ऑडियों सुनाई।

 

बचाव पक्ष के वकील अर्पित गुप्ता का कहना है कि विजिलेंस टीम की रेड पूरी तरह से प्लांट की गई थी। टीम के पास एक सीडी में रिकॉर्डिंग थी जिसमें कुछ भी स्पष्ट नहीं था। जज ने विजिलेंस टीम से भी पूछा की सिर्फ इस रिकॉर्डिंग के बेस पर FIR कैसे कर ली। विजिलेंस से पूछा की शिकायतकर्ता के बैक्रग्राऊंड की जांच की है। शिकायतकर्ता काम ही यही है। यह पहले लोगों को फंसाता है और फिर मामला कोर्ट में चले जाने के बाद रुपए लेकर आरोपी के पक्ष में गवाही दे देता है।

यह भी पढ़े:- *श्रीनगर एनकाउंटर में दो आतंकी ढेर, ऑपरेशन जारी*

 

बुधवार को हुआ पूरा घटनाक्रम

 

बता दें कि बुधवार को कैथल के चीका थाना SHO जयवीर शर्मा को विजिलेंस साढ़े 5 घंटे पूछताछ के बाद हिरासत में लेते हुए अंबाला ले गए। जहां से आज कोर्ट में पेश कर रिमांड लिया जाएगा। विजिलेंस को SHO जयवीर शर्मा के खिलाफ गुहला पूर्व पार्षद चांद राम ने 5 हजार रुपये रिश्वत मांगने की शिकायत दी थी। शिकायत के बाद योजना के तहत बुधवार दोपहर करीब 1:30 बजे चांदराम थाना में SHO जयवीर से मिले। हाथ मिलाया और उन्हें बातचीत करते हुए गेट तक ले गए। जहां पर विजिलेंस ने उन्हें पकड़ लिया।

 

पूछताछ के लिए एक कमरे में ले गए। SHO के पास से रिश्वत का कोई पैसा बरामद नहीं हुआ। सूचना पूरे शहर में फैल गई। शहर के लोग थाना परिसर में पहुंच गए। विजिलेंस के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए धरना दे दिया। विजिलेंस टीम ने अंबाला से अन्य टीम सदस्यों व आईजी को बुला लिया। वहीं धरना-प्रदर्शन को देखते हुए एसपी कैथल लोकेंद्र सिंह भी मौके पर पहुंचे। करीब 6 बजे विजिलेंस SHO को अंबाला ले गई।