Connect with us

Jhajjar

घरेलू बिजली के बढ़े रेट तुरंत वापिस ले सरकार अन्यथा सड़कों पर उतरने को मजबूर होगी जनता – दीपेंद्र हुड्डा

Published

on

सत्य खबर, झज्जर

सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने कहा कि आसमान छूते दामों से त्राहि-त्राहि कर रही जनता को हरियाणा की बीजेपी-जेजेपी सरकार ने बिजली के रेट बढ़ाकर महंगाई का एक और करंट लगा दिया है। महंगाई की सरकारी मार झेल रही जनता को मौजूदा सरकार हर रोज नये-नये तरीक़े निकाल कर निचोड़ने रही है।

 

उन्होंने आगे कहा कि डीजल-पेट्रोल और गैस के रेट बढ़ने से जनता पर गहरे घाव पड़ रहे थे, हरियाणा सरकार ने जनता को राहत देने की बजाय बिजली के रेट बढ़ाकर उनके घावों पर नमक छिड़कने का काम किया है। पेट्रोल-डीजल, रसोई गैस, सीएनजी, पीएनजी, तेल, खाने-पीने की वस्तुओं यहां तक कि टोल भी महंगा होता जा रहा है। हर रोज सुबह होते ही सरकारी महंगाई की मार आम गरीब और मध्यम वर्ग पर सीधे पड़ रही है। हरियाणा में बिजली के रेट बढ़ने से करीब 50 लाख परिवार सीधे तौर पर प्रभावित होंगे।

जिन उपभोक्ताओं का बिजली बिल 0 से 150 यूनिट आता है उन्हें अब बढ़़े रेट के हिसाब से 37.50 रुपये अधिक चुकाने होंगे। दीपेंद्र हुड्डा ने मांग करी कि हरियाणा में बिजली के बढ़े दामों को तत्काल वापस ले सरकार अन्यथा प्रदेश की जनता अब सड़कों पर उतरने को मजबूर हो जायेगी।

 

सांसद दीपेंद्र हुड्डा आज झज्जर के गांव भदानी में सूरत सिंह पहलवान, शिवदान सिंह पहलवान एवं मनो देवी की मूर्ति स्थापना एवं भंडारा कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे थे। इसके बाद वे गांव बिरधाना में ग्राम पंचायत द्वारा आयोजित सामाजिक कार्यक्रम में हिस्सा लिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि घरेलू गैस की कीमतों में एकमुश्त 50 रुपये और पेट्रोल-डीजल के दामों में हर रोज 80 पैसे प्रति लीटर की वृद्धि से आम जनता का जीना मुहाल हो गया है। ऐसा कोई दिन नहीं बीतता जब सुबह-सुबह किसी न किसी चीज के दाम बढ़ने की खबर न आती हो।

उन्होंने आगे कहा कि बढ़ती महंगाई ने किसान-मजदूर सहित आम गरीब व माध्यम वर्ग की कमर तोड़ दी है। बीते 12 दिनों में पेट्रोल-डीजल में अब तक 7 रुपये 20 पैसे की कुल वृद्धि हो चुकी है वहीँ थोक डीजल के भाव में एकमुश्त 25 रुपये की वृद्धि से महंगाई आसमान छू रही है।

इतना ही नहीं, आज भी सीएनजी के दाम बढ़ गए हैं, आज हुई मूल्य वृद्धि के बाद गुरुग्राम में सीएनजी अब 69.17 रुपये किलो मिलेगी। सीएनजी के भाव भी बढ़ने से सबसे बुरा हाल सीएनजी इस्तेमाल करने वालों का हो गया है। जिन लोगों ने महंगे डीजल से बचने के लिए औने-पौने दामों पर अपनी गाड़ियां बेच कर सीएनजी गाड़ियां खरीदी थी वो अब अपने आप को ठगा हुआ महसूस कर रहे हैं।

 

सांसद दीपेन्द्र हुड्डा ने बताया कि एक खबर के मुताबिक़ आम परिवार का किराना खर्च 6 महीने में 9.3% और पिछले 2 साल में करीब 45% बढ़ गया है। सरकार महंगाई से राहत देने की बजाय रोज़ महंगाई का वार कर रही है।

हर रोज महंगे होते पेट्रोल-डीजल, गैस सिलेंडर के अलावा पीएनजी, सीएनजी, टोल भी महंगा करती जा रही है सरकार। सरकार की गलत नीतियों से दूध, खाद्य तेल, खाने-पीने के अन्य सामान और तो और अब तो हालत ये है कि कपड़ों की धुलाई, नहाने का खर्च भी बढ़ गया है। पिछले कुछ महीनों में साबुन और डिटर्जेंट पावडर के दाम 25% तक बढ़े हैं। आम लोगों को रोज़मर्रा की जिंदगी गुजारना तक भारी पड़ रहा है।

*हरियाणा के गब्बर गृहमंत्री अनिल विज आप पर साधा निशाना कहा पंजाब में बच्चा पार्टी सरकार, धोखे से हुआ इसका जन्म*

 

 

इस दौरान प्रमुख रूप से विधायक गीता भुक्कल समेत अनेकों स्थानीय गणमान्य लोग मौजूद रहे।