Connect with us

Hisar

चुनाव में जाने से डर रही है सरकार, इसलिए नहीं करवाए जा रहे पंचायत व निगम के चुनाव- हुड्डा

Published

on

सत्य खबर, हिसार

पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने गेहूं की एमएसपी पर किसानों को ₹500 बोनस देने की मांग की है। उनका कहना है कि सरकार की नीतियों के चलते खेती घाटे का सौदा हो गई है। आसमान छूती महंगाई ने खेती की लागत को लगभग दोगुना कर दिया है। महंगाई के साथ लगातार किसानों को मौसम की मार का भी सामना करना पड़ रहा है। इस बार गेहूं के उत्पादन में खासी कमी देखी जा रही है। ऐसे में किसानों के नुकसान की भरपाई के लिए उन्हें बोनस दिया जाना चाहिए।

भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने खेड़ी चौपटा, बास और बालसमंद में चल रहे किसानों के धरने का भी समर्थन किया। उन्होंने कहा कि किसानों की मांग पूरी तरह जायज है और उन्हें भी मुआवजा मिलना चाहिए। सरकार को उनकी मांगों का संज्ञान लेते हुए सकारात्मक फैसला लेना चाहिए।

 

हुड्डा आज हिसार में पत्रकार वार्ता को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर उन्होंने कहा कि बीजेपी-जेजेपी सरकार पूरी तरह विफल है। इसीलिए वह चुनाव में जाने से डर रही है। इसी डर के चलते पंचायत और निगम के चुनाव को टाला जा रहा है।

*जींद में डेरा सच्चा सौदा के स्थापना समारोह में जुटे हजारों श्रद्धालु,3229 परिवारों को बांटा राशन*

 

 

 

उन्होंने कहा कि प्रदेश का हर वर्ग सरकार की नीतियों से त्रस्त है। भ्रष्टाचार और महंगाई ने सारी सीमाएं लांघ दी हैं। डाडम समेत अलग-अलग क्षेत्रों में माइनिंग जैसे बड़े घोटालों को अंजाम दिया जा रहा है। कांग्रेस ने इसकी जांच सीबीआई से करवाने की मांग उठाई थी। लेकिन सरकार इससे भाग रही है। ऐसे सरकार की मंशा पर सवाल उठने लाजमी हैं।

 

इस मौके पर हुड्डा के साथ पूर्व स्पीकर कुलदीप शर्मा, विधायक कुलदीप वत्स, पूर्व विधायक रामनिवास घोडेला, नरेश सेलवाल, शम्मी नागपाल, धर्मवीर गोयत, योगेश सिहाग, वजीर सिंह पुनिया, योगेंद्र योगी, सुमन शर्मा, सुभाष गोदारा समेत कई नेता मौजूद रहे।