Connect with us

Kurukshetra

दिल्ली के बीजेपी नेता तजिंदर बग्गा को ले जाती पंजाब पुलिस को कुरूक्षेत्र में हरियाणा पुलिस ने रोका, जानिए फिर क्या हुआ 

Published

on

सत्य खबर, कुरूक्षेत्र

पंजाब पुलिस दिल्ली के बीजेपी नेता तजिंदर बग्गा को गिरफ्तार कर पंजाब ले जा रही थी। वहीं हरियाणा के कुरूक्षेत्र में हरियाणा पुलिस ने उसे रोक लिया है। फिलहाल मौके पर पुलिस के उच्चाधिकारी पहुंचे हुए हैं। भाजपा नेता तजिंदर पाल सिंह बग्गा को पंजाब पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

यह जानकारी स्वयं आम आदमी पार्टी के दिल्ली विधायक नरेश बालयान ने दी. बीजेपी यूथ के राष्ट्रीय सचिव और उत्तराखंड बीजेपी यूथ के इंचार्ज तजिंदर सिंह बग्गा लंबे समय से दिल्ली की केजरीवाल सरकार के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं. उन पर आरोप है कि उन्होंने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को धमकी दी थी. तजिंदर बग्गा को गिरफ्तार करके पंजाब लेकर जा रही पंजाब पुलिस को हरियाणा पुलिस ने कुरुक्षेत्र के खानपुर कोलिया नेशनल हाईवे जीटी रोड पर रोक लिया है. तजिंदर बग्गा को ले जा रही पंजाब पुलिस को हरियाणा में रोके जाने के बाद वहां हड़कंप मच गया है. कुरुक्षेत्र, करनाल और अंबाला के आला पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच चुके हैं. हरियाणा में पंजाब पुलिस के खिलाफ तजिंदर बग्गा का अपहरण करने के आरोप में मामला दर्ज किया गया है. भाजपा नेता नवीन जिंदल ने आरोप लगाया है कि पंजाब पुलिस ने तजिंदर पाल सिंह बग्गा को गिरफ्तार नहीं किया, बल्कि उनका अपहरण किया गया है. उन्होंने आरोप लगाया कि उनके पिता के साथ भी मारपीट की गई.

नवीन जिंदल का कहना है कि बग्गा के पिता के मुंह पर पंजाब पुलिस ने मुक्का मारा. उन्होंने कहा, केजरीवाल ने पुलिस के भेष में गुंड़े भेजे थे. इससे पहले बीजेपी नेता तजिंदर पाल की गिरफ्तारी के बाद भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने दिल्ली के जनकपुरी थाने पहुंचकर वहां प्रदर्शन किया. भाजपा कार्यकर्ताओं ने दिल्ली में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और पंजाब पुलिस के खिलाफ नारे लगाए. पंजाब पुलिस ने इस संबंध में जानकारी दी, ‘आज यानी शुक्रवार सुबह भाजपा नेता तजिंदर पाल सिंह बग्गा को सभी नियम कानूनों के अनुसार नई दिल्ली स्थित उनके निवास जनकपुरी से गिरफ्तार किया गया है और अब उन्हें कोर्ट में पेश किया जाएगा. आगे की जांच साहिबजाता अजित सिंह नगर पुलिस की एसआईटी करेंगी.’

दिल्ली के बीजेपी नेता तजिंदर बग्गा गिरफ्तार, जानिए क्यों

 

पंजाब पुलिस का कहना है कि 1 मई 2022 को तजिंदर बग्गा के खिलाफ साइबर क्राइम के तहत मामला दर्ज किया गया था. उनके खिलाफ हिंसा भड़काने, आपराधिक धमकी देने, सोशल मीडिया पर झूठे और सांप्रदायिक भड़काऊ बयान प्रकाशित करने की शिकायत पर प्राथमिकी दर्ज की गई है. उन्होंने बताया कि तजिंदर बग्गा को पांच बार नोटिस दिया गया, लेकिन वह एक बार भी जांच के लिए आगे नहीं आए. उन्होंने जानबूजकर जांच में सहयोग नहीं किया. इसलिए आज सुबह उनको दिल्ली से गिरफ्तार किया गया है.

 

आम आदमी पार्टी के विधायक नरेश बालयान ने शुक्रवार सुबह एक ट्वीट करके जानकारी दी कि पंजाब पुलिस ने तजिंदर सिंह बग्गा को गिरफ्तार कर लिया है. उन्होंने अपने ट्वीट करके बताया कि बग्गा ने मुख्यमंत्री केजरीवाल को ‘जीने नहीं देंगे’ की धमकी दी थी. भाजपा नेता और पूर्व में आम आदमी पार्टी में रह चुके कपिल मिश्रा ने इस गिरफ्तार का विरोध करते हुए ट्वीट किया, तजिंदर बग्गा को पंजाब पुलिस के 50 जवान घर से गिरफ्तार करके ले गए. उन्होंने तजिंदर बग्गा को सच्चा सरदार बताते हुए लिखा कि सच्चे सरदार से केजरीवाल को इतना डर क्यों है.

एक अन्य ट्वीट में कपिल मिश्रा ने कहा, पंजाब की पुलिस का इस्तेमाल केजरीवाल के पर्सनल नाराजगी, पर्सनल खुन्नस को निपटाने के लिए किया जा रहा है. उन्होंने कहा, ये पंजाब का, पंजाब के जनादेश का अपमान है. तजिंदर बग्गा के साथ आज सारा देश खड़ा है. केजरीवाल एक सच्चे सरदार से डर गए.

 

हरियाणा बीजेपी के नेता अरुण यादव ने ट्वीट करके दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल को कायर बताया और गृहमंत्री अमित शाह से इस मामले में संज्ञान लेने की अपील की.