Connect with us

Faridabad

फरीदाबाद से यूपी की दूरी होगी कम, बनेगा पुल, जानिए कहां पर

Published

on

सत्य खबर, फरीदाबाद

तिगांव के भाजपा विधायक राजेश नागर ने आज केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के सामने अपने क्षेत्र की समस्याओं को उठाया। उन्होंने देरी से बन रहे मंझावली पुल को जल्द बनवाने की मांग की जिससे कि फरीदाबाद और नोएडा की कनेक्टिविटी में और देरी न हो।

विधायक राजेश नागर ने गडकरी को बताया कि मंझावली में यमुना पर बन रहा पुल फरीदाबाद खासकर ग्रेटर फरीदाबाद के लोगों के लिए बहुत बड़ी उम्मीद है लेकिन इसमें किन्हीं कारणों से निरंतर देरी हो रही है। जिससे लोगों का इंतजार लम्बा हो चला है। उन्होंने कहा कि इस पुल के बन जाने से फरीदाबाद और नोएडा के आपस में पारिवारिक और व्यापारिक दोनों प्रकार के रिश्ते मजबूत होंगे जिसका लाभ सभी को होगा। जेवर में एयरपोर्ट के बाद तो अब लोगों की इच्छाएं और तेज हो रही हैं। इसलिए इसे जल्द से जल्द बनवाया जाए।

विधायक राजेश नागर ने केंद्रीय मंत्री को याद दिलाया कि फरीदाबाद के शहाजहांपुर में यमुना पर एक और पुल बनाने बारे में मंत्रालय की सहमति बन गई थी। इसे भी जल्द शुरू करवाया जाए। यमुना पर तीन चार पुल बन जाने से न केवल उत्तर प्रदेश और हरियाणा के संबंध आपस में मजबूत होंगे वहीं किसी एक पुल पर ज्यादा दबाव भी नहीं पड़ेगा।

इसके साथ ही फरीदाबाद बायपास के साथ बन रहे दिल्ली वडोदरा एक्सप्रेसवे पर मोहना-चंदावली क्रासिंग पर एलिवेटेड सेक्शन बनवाने की मांग भी विधायक ने केंद्रीय मंत्री के समक्ष रखी। उन्होंने अपनी मांगों के संदर्भ में मंत्री को एक ज्ञापन भी सौंपा और जनहित में एनएचएआई अधिकारियों को जल्द निर्देश दिए जाने की मांग की। विधायक ने बताया कि फिलहाल एनएचएआई इस क्रासिंग को बंद करने पर अडा है, वहीं अंग्रेजों के समय के बने पुल को भी बंद करने की बात कर रहा है।

*महिला पुलिस अधिकारी ने अपने ही मंगेतर को किया गिरफ्तार, जानिए वजह*

 

जिससे लोगों, खासकर छोटे बच्चों को कई किलोमीटर का लंबा चक्कर काटकर स्कूल जाने के लिए मजबूर होना पड़ेगा क्योंकि स्कूल और गांव हाइवे के पूर्वी एवं पश्चिमी दिशा में हैं। वहीं इस रोड से फरीदाबाद के करीब 80 गांव के लोग भी गुजरते हैं जो कि रास्ता बंद होने के बाद काफी परेशानियों से दो चार होंगे। विधायक राजेश नागर ने बताया कि केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने उनकी सभी मांगों को ध्यान से सुना और वायदा करते हुए उन पर प्राथमिकता से काम करने का आश्वासन दिया। उन्होंने फरीदाबाद के हाल चाल भी जाने और कई मुद्दों पर अपना मार्गदर्शन भी प्रदान किया। इस दौरान उनके पूर्व भाजपा विधायक आनन्द शर्मा के पुत्र हेमन्त शर्मा भी मौजूद रहे।