Connect with us

Fatehabad

सिद्दू मूसेवाला की हत्या मामले में फिर जुडे फतेहबाद से संबंध, जानिए अब क्या है वजह

Published

on

सत्य खबर, राजेश भांबू, फतेहबाद

महशूर पंजाबी गायक सिद्दू मूसेवाला की हत्या के मामले में एक बार फिर से हरियाणा के फतेहबाद से तार जुड़ गए हैं। सिद्धू मूसेवाला के हत्यारे जिस बोलेरो गाड़ी में आए थे वही बोलेरो कार हत्या से चार दिन पहले फतेहाबाद के हांसपुर रोड पर दिखाई दी थी. पंजाब पुलिस ने इसी फुटेज के आधार पर गुरुवार को फतेहाबाद के भिरड़ाना गांव से दो लोगों को गिरफ्तार किया है. इन दोनो पर सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में शामिल होने का संदेह है. बताया जा रहा है कि हत्या में इस्तेमाल हुई बोलेरो कार से इन दोनों का कनेक्शन है.

पंजाब पुलिस के मुताबिक इन दोनों पर पंजाब में हत्या का मामला दर्ज है.हत्या से 4 दिन पहले दिखी बोलेरो- रविवार 29 मई को पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या की गई थी. हत्या से 4 दिन पहले यानी 25 मई को एक बोलेरो गाड़ी को रतिया चुंगी से जाते हुए सीसीटीवी फुटेज में देखा गया. फिर यही बोलेरो गाड़ी हांसपुर रोड से होते हुए हांसपुर की ओर रवाना हो गई. बताया जा रहा है कि यह वही बोलेरो है जो सिद्दू मूसावाला हत्या से तीन चार दिन पहले रेकी के लिए इस्तेमाल की गई थी. हरियाणा पुलिस ने क्या कहा भिरड़ाना गांव से दो व्यक्तियों की गिरफ्तारी की बात सामने आते ही मीडिया ने जब फतेहाबाद के एसपी सुरेंद्र सिंह भौरिया से सवाल पूछा तो वे इस मामले से ज्यादा बातचीत करने से बचते हुए नजर आए. हालांकि उन्होंने यह बात जरूर कही कि गुरूवार देर रात पंजाब पुलिस और फ़तेहाबाद की सीआईए टीम ने संयुक्त रेड करके दो युवकों को गिरफ्तार में लिया है. देर रात पंजाब पुलिस उन्हें साथ ले गई है.

*जल्द मिल सकती है वाहन चालकों को खुशखबरी, जानिए क्या होगी घोषणा*

जहां पंजाब पुलिस दोनों आरोपियों से सिद्धू मूसेवाला मर्डर केस में पूछताछ करेगी.पहले भी आया मूसेवाला मर्डर केस में फतेहाबाद कनेक्शन- गौरतलब है कि सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद आरोपी फतेहाबाद के भूंदड़वास गांव के शख्स से ऑल्टो कार लूटकर फरार हो गए थे. पीड़ित शख्स जगतार सिंह ने पुलिस को दी शिकायत में बताया था कि वो, उसका भाई मक्खन सिंह, उसकी मा और दो बच्चे आल्टो कार में सवार होकर रतिया के भूंदड़वास गांव से अपनी बीमार भांजी से मिलने खड़क सिंह वाला, बठिंडा जा रहे थे. जब वो शाम पौने 6 बजे के करीब मानसा के खारा बरनाला गांव के पास पहुंचे. तब वहां कोरोला और बोलेरो में सवार होकर आए लोगों ने उनकी कार रुकवा ली. जगतार के मुताबिक आरोपियों ने हथियार दिखाकर उनकी ऑल्टो कार लूट ली और फरार हो गए, जबकि आरोपी अपनी कोरोला गाड़ी वहीं पर छोड़ गए. पंजाब पुलिस ने इस ऑल्टो कार को भी बाद में बरामद किया था, जिसे आरोपी रास्ते में छोड़कर फरार हो गए थे.

सिंगर मनकीरत औलख का भी नाम आया था सामने                                     

इसके अलावा सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड फतेहाबाद कनेक्शन तब भी सामने आया था जब बहबलपुर गांव के रहने वाले पंजाबी गायक मनकीरत औलख और उनके मैनेजर का नाम इस मामले में सामने आया. इस बात का पता चलते ही सिंगर मनकीरत औलख ने सोशल मीडिया पर सफाई भी दी थी. मनकीरत ने मीडिया से अपील करते हुए कहा था कि उनके बारे में गलत खबरें चलाई जा रही हैं. इसमें मेरा या मेरे मैनेजर का कोई हाथ नहीं है. जितना सदमा सिद्धू मूसेवाला के परिजन और उनके समर्थकों को लगा है. उतना ही सदमा मुझे भी लगा है. मनकीरत ने अपील करते हुए कहा कि मेरे बारे में झूठी खबरें चलाई जा रही हैं.