Connect with us

Rohtak

हरियाणा : सिरसा डेरा संचालक राम रहीम को फिर मिली बेल,यहां रहने का है प्लान

Published

on

सत्य खबर, रोहतक

सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को एक बार फिर पैरोल मिली है. रोहतक की सुनारिया जेल में बंद गुरमीत राम रहीम को जेल विभाग की ओर से 1 महीने की पैरोल दी गई है. इस एक महीने के दौरान राम रहीम यूपी के बागपत आश्रम में रहेगा. शुक्रवार सुबह राम रहीम को भारी सुरक्षा के बीच जेल से निकाला गया.

सडक़ पर खड़े वाहन की फोटो भेजने वाले को सरकार देगी इतना ईनाम

 

बताया जा रहा है कि पैरोल की अवधि के दौरान राम रहीम बागपत में स्थित डेरा आश्रम में रहेगा. गौरतलब है कि साध्वी यौन शोषण के अलावा दो हत्याओं के मामले में राम रहीम सजा काट रहा है. साध्वी यौन शोषण मामले में पंचकूला की सीबीआई कोर्ट ने राम रहीम को अगस्त 2017 में 20 साल की सजा सुनाई थी. जबकि पत्रकार रामचंद्र छत्रपति मर्डर केस में भी राम रहीम को सजा मिली है. अगस्त 2017 से ही राम रहीम रोहतक की सुनारिया जेल में सजा काट रहा है.डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को हरियाणा सरकार ने पैरोल दी है. वैसे ये पहली बार नहीं है जब हरियाणा सरकार राम रहीम पर मेहरबान हुई है. इससे पहले, इस साल 7 फरवरी को राम रहीम की 21 दिन की पैरोल मिली थी. राम रहीम की जान को खतरा बताते हुए सरकार की तरफ से बकायदा जेड प्लस सिक्योरिटी भी मुहैया करवाई गई थी. इस दौरा राम रहीम ज्यादातर अपने गुरुग्राम स्थित आश्रम में ही रहा था. इससे पहले पिछले साल भी राम रहीम को बीमार मां को देखने के लिए 48 घंटे की एमरजेंसी पैरोल दी गई थी. तब राम रहीम ने गुरुग्राम में अपनी बीमार मां से मुलाकात की थी. इसके अलावा राम रहीम को मई और जून में इलाज के लिए पीजीआई रोहतक और गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल ले जाया गया था.

 

डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को 25 अगस्त 2017 को रोहतक की सुनारिया जेल में लाया गया था. पंचकूला की सीबीआई कोर्ट में पेशी के दौरान व्यापक पैमाने पर हिंसा हुई थी. इसके बाद हेलीकॉप्टर के जरिए उसे सुनारिया जेल लाया गया. 28 अगस्त को जेल परिसर में ही सीबीआई की विशेष कोर्ट लगी और सीबीआई जज जगदीप सिंह ने राम रहीम को दो साध्वियों से यौन शोषण मामले में 10-10 साल की सजा सुनाई थी. जनवरी 2019 में सीबीआई की विशेष अदालत ने पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड में राम रहीम को उम्रकैद की सजा सुनाई थी. अक्टूबर 2021 में डेरा के पूर्व प्रबंधक रणजीत सिंह हत्याकांड में भी राम रहीम को उम्रकैद की सजा हुई थी. जेल परिसर में राम रहीम को अलग बैरक में रखा गया है. जेल परिसर में राम रहीम से समय-समय पर परिजन और वकील मुलाकात करते रहते हैं.