Connect with us

Rewadi

हरियाणा : 50 करोड़ की फिरौती मांगने वाले निकले इस गैंग के गुर्गे 

Published

on

सत्य खबर, रेवाड़ी

रेवाड़ी स्थित कस्बा बावल में एक शोरूम संचालक की दुकान पर फायरिंग कर 50 करोड़ रुपए फिरौती मांगने के मामले में बावल थाना पुलिस ने 5 बदमाशों को अरेस्ट कर लिया है। बदमाशों से वारदात में प्रयोग की गई बाइक और हथियार बरामद किए गए है। एसपी राजेश कुमार ने प्रैसवर्ता में जानकारी दी कि इस वारदात का मास्टर माइंड अनिल गुर्जर खेड़ा मुरार है। उसने ही साजिश रचकर अपने साथियों को वारदात करने भेजा था।

 

पकड़े गए बदमाशों में रेवाड़ी जिले के गांव खेड़ा मुरार निवासी अनिल, संदीप, सोनू व सुमित के अलावा बनीपुर का रहने वाला रविन्द्र उर्फ गोलू शामिल है। पांचों आरोपियों को बावल एरिया के ही एक गांव से गिरफ्तार किया गया है। देर रात ही ड्यूटी मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश कर बावल थाना पुलिस ने 3 दिन के रिमांड पर लिया है। वारदात को अंजाम देने 3 युवक शोरूम पर पहुंचे थे, जबकि 2 बदमाश पास में ही खड़े हुए थे। बदमाशों की धर पकड़े के लिए रेवाड़ी जिले की दोनों सीआईए, बावल थाना पुलिस के अलावा एसटीएफ टीमें लगी हुई थी। आखिर में बावल थाना प्रभारी विद्या सागर की टीम ने पांचों बदमाशों को धर दबोचा।

*हमने हरियाणा को खेल व शिक्षा का हब बनाया, बीजेपी-जेजेपी ने नशे का- हुड्डा *

 

मांगे पैसे, मना करने पर फायरिंग

 

रेवाड़ी के सेक्टर-3 में रहने वाले सतीश बतरा का बावल कस्बे में रेवाड़ी रोड पर एक्सिस बैंक के पास ‘पार्वती टाइल्स एंड बतरा सैनिटरी’ नाम से शोरूम है। 24 मई की शाम करीब सवा 4 बजे पल्सर पर 3 युवक उनके शोरूम पर पहुंचे। उस समय शोरूम पर सतीश बतरा का बेटा राहुल बैठा था। तीनों युवकों ने कुछ देर राहुल से इधर-उधर की बातें की और फिर 50 करोड़ रुपए की फिरौती मांगी।

 

राहुल बतरा के अनुसार, तीनों युवक खुद को नामी बदमाश अनिल खेड़ा मुरार और संदीप खेड़ा मुरार के गैंग से बता रहे थे। युवकों ने जब फिरौती मांगी तो एकबारगी तो उन्हें उनकी बात समझ नहीं आई मगर फिर उन्होंने युवकों को पैसे देने से स्पष्ट इनकार कर दिया।

 

उसके फिरौती देने से मना करने पर तीनों युवक शोरूम से बाहर निकल गए। बाहर निकलते ही तीनों ने शोरूम पर फायरिंग शुरू कर दी। उनकी एक गोली शोरूम के बाहर शीशे पर लगी जिससे शीशा चकनाचूर हो गया। गोलियां चलाने के बाद तीनों युवक हथियार लहराते हुए बाइक पर बैठकर चले गए। पुलिस के अनुसार, इस वारदात का मास्टरमाइंड अनिल खेड़ा मुरार है। अनिल ने ही संदीप, सोनू व सुमित को सतीश बतरा के शोरूम पर भेजा था, जबकि रविन्द्र उर्फ गोलू व खुद अनिल दोनों पास में ही खड़े हुए थे। अनिल खेड़ा मुरार पेशवर बदमाश है। अनिल ने इससे पहले 2017 में बावल कस्बा में ही एक व्यापारी से एक करोड़ रुपए की रंगदारी मांगी थी। अनिल पर इससे पहले भी कई अपराधिक मामले दर्ज है। पुलिस पांचों से लगातार पूछताछ कर रही है।