Connect with us

Karnal

एटीएम चोरों की नई तकनीक से बैंक भी परेशान आप भी रह जाएंगे हैरान

Published

on

Banks are also troubled by the new technology of ATM thieves

सत्य खबर, करनाल

हरियाणा के करनाल में डिटेक्टिव स्टाफ ने ऐसे चोरों को गिरफ्तार किया है जो एटीएम में स्टील की पत्तियां डालकर रुपये चोरी करते थे. दरअसल चोरी का ये नया तरीका है. चोर एटीएम मशीन में पत्तियां लगा कर आस-पास छिप जाते थे. जब कोई रुपये निकलवाता था तो कुछ नोट इन पत्तियों में फंस जाते थे और पूरे रुपये नहीं निकलते थे.

 

11 सितम्बर को पुलिस थाना रामनगर में कैनरा एटीएम से लाखों रुपये चोरी कि शिकायत मिली थी. शिकायतकर्ता आकाश दीप ने बताया कि वह राईटर बिजनैस सर्विस कम्पनी में चैनल मैनेजर है. उसने बताया कि रामनगर स्थित कैनरा एटीएम पर पिछले काफी समय से कोई व्यक्ति मशीन के साथ छेडछाड़ करके रुपये निकाल रहा है.Banks are also troubled by the new technology of ATM thieves

इस संबंध में थाना रामनगर में अज्ञात आरोपियों के खिलाफ धारा 379, 420 आईपीसी के तहत मामला दर्ज किया गया.तफ्तीश के दौरान 13 सितम्बर को दो आरोपियो साकेत खेतान व अफरोज खान को रामनगर से गिरफ्तार किया गया.

आरोपियों को 14 सितम्बर को अदालत में पेश करके दो दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया. रिमांड के दौरान खुलासा हुआ कि आरोपी पिछले करीब तीन महीने से ऐसी वारदातों को अंजाम दे रहे थे. आरोपी कैनरा बैंक के एटीएम को निशाना बनाते थे. खास बात ये भी है कि चोर केवल कैनरा बैंक के एटीएम को ही निशाना बनाते थे.Banks are also troubled by the new technology of ATM thieves

Also read:

*आदमपुर में बीजेपी का यह बड़ा नेता हुआ कांग्रेस में शामिल*

 

Also read:

*जींस टीशर्ट पहनकर अदालत में पहुंचने वाली महिला सिपाही को करना पड़ा यह काम*

 

Also read:

*डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के सामने खड़ी हुई बड़ी मुसीबत, जानें कैसी*

 

जांच में खुलासा हुआ कि आरोपी एटीएम से रुपये निकलने वाली जगह पर स्टील की पत्तियां से बना कुछ उपकरण फिट कर देते थे. जब कोई व्यक्ति एटीएम से रुपये निकालने के लिए आता तो सारी प्रक्रिया के बाद भी उसके रुपये नही निकलते थे.

क्योंकि उनमें से कुछ रुपये पत्ती में फंस जाते थे. बाकी एटीएम के कैश बाक्स में गिर जाते थे. व्यक्ति के जाते ही आरोपी अपनी पत्ती को रुपयों सहित निकालकर फरार हो जाते थे. ये रुपये व्यक्ति के खाते में तो वापिस पंहुच जाते थे लेकिन बैंक के खाते से कट जाते थे.

जिससे बैंक को भारी नुकसान हो रहा था. जांच में ये भी खुलासा हुआ कि आरोपियों ने फेसबुक से वीडियो देखकर एटीएम मशीन से फ्रॉड का ये तरीका सीखा था.चोरी की इन वारदातों से कैनरा बैंक का प्रबंधन परेशान था. आरोपियों ने ऐसे ही लाखों रुपये की चोरी की वारदातों को अंजाम दिया है. आरोपियों ने कई जिलों में करीब 20 ऐसी वारदातों को अंजाम दिया है.Banks are also troubled by the new technology of ATM thieves

आरोपियों के कब्जे से कुल 76 स्टील की छोटी-बड़ी पत्तियां, 40 हजार रुपये नगदी बरामद हई है. आरोपियों को अदालत में पेश करके न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. आरोपियों ने पानीपत, कुरूक्षेत्र व यमुनानगर जिलों के एटीएम से पिछले कुछ समय में कुल 2.5 लाख रुपये निकाले हैं.