Connect with us

Jhajjar

हरियाणा:फैक्ट्री में गैस लीक से 4 की मौत दो गंभीर

Published

on

Four workers died due to methane gas leak

सत्य खबर , झज्जर

बहादुरगढ़ की फैक्ट्री में मीथेन गैस लीक हो गई. जिसकी चपेट में आने से चार मजदूरों की मौत हो गई. इस हादसे में 2 मजदूरों की हालत गंभीर बताई जा रही है. हादसा उस वक्त हुआ जब कर्मचारी कंपनी में वेस्ट टैंक की सफाई करने में जुटे थे. घटना की सूचना मिलते ही पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे और मामले की जांच में जुट गए.

 

मिली जानकारी के अनुसार, बहादुरगढ़ के रोहद गांव स्थित इंडस्ट्रियल एरिया में दिल्ली के पटेल नगर निवासी हितेश नाम के शख्स ने एयरोफ्लेस सीलिंग मटीरियल मेन्युफेक्चरिंग नाम से कंपनी खोली है. कंपनी में इंजन की गैस किट बनाई जाती है. कंपनी में ही सफाई के लिए कई वेस्ट टैंक बनाए हुए हैं. बुधवार की दोपहर कुछ कर्मचारी इन टैंकों की सफाई में जुटे थे. इस दौरान मीथेन गैस लीक होने से 6 कर्मचारी इसकी चपेट में आ गए.कर्मचारी जैसे ही मीथेन गैस की चपेट में आए तो वो अचेत होकर गिर पड़े.Four workers died due to methane gas leak

Also read:

परिवारवाद का विरोध करने वाली बीजेपी , क्या सियासी परिवारों के बल पर ही जीतना चाहती है 2024 का चुनाव ?

 

Also read:

*थाने में ली जा रही थी रेप के मामले में रिश्वत, फिर हुआ कुछ ऐसा कि पुलिस भी रह गई हैरान*

 

आनन-फानन में साथी कर्मचारियों ने इसकी सूचना फैक्ट्री प्रशासन को दी. जिसके बाद सभी कर्मचारियों को बहादुरगढ़ के ही जीवन ज्योति अस्पताल में भर्ती कराया गया, जिनमें 4 श्रमिकों की मौत हो गई. जबकि दो की हालत अब भी गंभीर बनी हुई है. मरने वालों में यूपी के किहार निवासी राजबीर, नवाबगंज के मदिरापुर निवासी अजय कुमार, शाहजहांपुर जिला निवासी जगतपाल व बाराबंकी निवासी प्रकाश शामिल है, जबकि यूपी के ही मयंक और विकास की हालत गंभीर बनी हुई है. दोनों को अस्पताल के आईसीयू में भर्ती किया गया है.Four workers died due to methane gas leak

Also read:

अंबाला में 2 सट्टेबाजों से 105 मोबाइल किए बरामद 

सूचना मिलते ही झज्जर जिले के डीसी शक्ति सिंह और एसपी वसीम अकरम मौके पर पहुंचे और स्थिति का जायजा लिया. फिलहाल इंडस्ट्रियल सेफ्टी अधिकारियों ने श्रमिकों की मौत का कारण मीथेन गैस बताया है. बताया जा रहा है कि लंबे वक्त से फैक्ट्री के वेस्ट टैंक की सफाई नहीं हुई थी. गंदगी काफी समय से जमा होने के कारण वहां पर मीथेन गैस बन गई. इसी गैस की चपेट में आने से चार मजदूरों की मौत हो गई. फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है. जांच के लिए प्रशसनिक स्तर पर भी एक टीम बनाई गई है. एसपी वसीम अकरम के मुताबिक जांच में जिसकी भी लापरवाही सामने आएगी. उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी.