Connect with us

Bhiwani

हरियाणा में तीन सगे भाइयों को पुलिस ने एक साथ किया गिरफ्तार, जानिए क्यों

Published

on

Police arrested three real brothers together

सत्य खबर, भिवानी 

हरियाणा के भिवानी में साइबर क्राइम पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है. पुलिस ने 3 साइबर ठगों को गिरफ्तार किया है जो सगे भाई हैं. आरोपियों में सबसे छोटा भाई नाबालिग है. आरोपी नशे की लत के कारण साइबर फ्रॉड करने लगे जिसके चलते आज ये पुलिस की गिरफ्त में हैं. ये तीनो भाई साइबर फ्रॉड कर लोगो के खाते से रुपये निकालते थे और इन रुपयों से तीनो नशा करते थे.Police arrested three real brothers together

आरोपियों ने जिले में कई लोगों के खातों से रुपये निकाले हैं. साइबर क्राइम पुलिस भिवानी के पास फ्रॉड की कई शिकायतें आई थी. जिसके बाद पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी थी. भिवानी साइबर क्राइम पुलिस के एएसआइ विजय कुमार ने बताया की तोशाम के खरकड़ी मख्वान निवासी दीपक ने थाने में फ्रॉड की शिकायत की थी. उसने बताया था कि 25 मई 2021 को उसके खाते से 99 हजार रुपये निकाले गए.उसकी शिकायत पर मामला दर्ज कर सीआईए ने जांच शुरू की. लेकिन आरोपी सीआईए की पकड़ में नही आये. मामला साइबर थाने में पहुंचा तो साइबर क्राइम पुलिस ने मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है. जिसमें एक आरोपी नाबालिग है. एएसआइ विजय कुमार ने बताया कि तीनों आरोपी नूंह जिले के पुन्हाना थाने के गांव खेड़ा के रहने वाले हैं. आरोपियों में एक नाबालिग है जिसे फरीदाबाद के जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड में पेश किया गया.Police arrested three real brothers together

जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड में पेश कर नाबालिग आरोपी को सुधार गृह में भेज दिया गया. बाकि दो आरोपियों से पुलिस पूछताछ जारी है. पुलिस ने आरोपियों से 43 हजार रुपये भी बरामद किए हैं. पकड़े गए आरोपियों के नाम सरफराज व अंसार हैं. पुलिस दोनों को आज न्यायालय में पेश करेगी. उन्होंने बताया कि आरोपियों को बेरी झज्जर से गिरफ्तार किया गया है.तीनों आरोपियों के साथ ठगी की वारदातों को अंजाम देने में एक ओर मास्टर माइंड है. वह अभी फरार है और पुलिस उसकी तलाश में जुटी है. पुलिस ने आरोपियों से एक आधार कार्ड बरामद किया है. आरोपी आधार कार्ड को एडिट करके सिम लेते थे और फिर ठगी करते थे.