Connect with us

NEW DELHI

कभी बाउंसरों से घिरे रहने वाले श्रीकांत त्यागी को अब छुपने के लिए दुनिया हो गई छोटी, जानिए कैसे

Published

on

Srikant Tyagi, who was once surrounded by bouncers, now the world has become too small to hide

सत्य खबर , नई दिल्ली

नोएडा की ग्रैंड ओमेक्स सोसाइटी में महिला से बदसलूकी करने का आरोपी श्रीकांत त्यागी अभी भी फरार है। पुलिस की कई टीमें उसकी तलाश में जगह-जगह छापेमारी कर रहीं, लेकिन अभी तक उसका पता नहीं चला। इस बीच उसके काले चिट्ठे खुलते जा रहे हैं। आइए जानते हैं कि कैसे नोएडा के भंगेल में रहने वाला मामूली इंसान, इतनी आलीशान जिंदगी जीने लगा और कैसे अचानक वो इतने रसूक वाला आदमी बन गया।

Also read- अब दिल्ली में नहीं चल पाएंगे चोरी किए हुए फोन ,जानिए कैसे

Also read- दुनिया के सबसे अमीर आदमी ने बेचा अपना घर, क्यों बेचा जानने के लिए पढ़े ये खबर

 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक त्यागी का घर नोएडा के भंगेल में था। वहां पर उसकी काफी जमीन थी। जब नोएडा अथॉरिटी ने उस इलाके में विकास शुरू किया, तो उसकी जमीन का अधिग्रहण कर लिया गया। इसके बदले उसे करोड़ों रुपये का मुआवजा मिला और उसकी जिंदगी बदल गई। अधिग्रहण के पैसों से उसने पहले कई सारी गाड़ियां खरीदीं और फिर खुद को पावरफुल इंसान दिखाने लगा।

 

उसके जानने वालों के मुताबिक श्रीकांत बड़ी-बड़ी गाड़ियों से चलता और उसके काफिल में बाकयदा स्कॉर्ट की गाड़ियां भी थीं। उसको पुलिस से सुरक्षा तो मिली ही थी, साथ ही वो खुद के कई सारे बाउंसर लेकर चलता था। जब वो भंगेल में रहता था तो उसके घर पर बकायदा पुलिस बैरिकेड्स लगाए गए थे। इसके अलावा बूम बैरियर और मेटल डिटेक्टर भी लगा था। अगर किसी को उससे मिलना रहता था, तो पहले उसकी अच्छे से तलाशी ली जाती थी।

 

रिपोर्ट में आगे बताया गया कि श्रीकांत ने स्निफर डॉग भी रखे थे, जो उसकी सुरक्षा में तैनात थे। जैसे ही घर से उसकी गाड़ियों का काफिला निकलता, वैसे ही कई सारी स्कॉर्ट की गाड़ियां आगे पीछे चलने लगती थीं। उसके जानने वालों के मुताबिक तीन साल पहले वो भंगेल को छोड़कर नोएडा सेक्टर 94 में शिफ्ट हो गया था। देखा जाए तो श्रीकांत की लाइफ स्टाइल एकदम फिल्मी थी और उसे अपना रसूक दिखाने का काफी ज्यादा शौक था।

 

वहीं श्रीकांत के फ्लैट के अंदर एक तहखाना मिला है। अब इस बात का पता लगाया जा रहा कि आखिर उसने इसका निर्माण कैसे कर लिया। इसके अलावा नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों भी सवाल के घेरे में आ गए हैं। अब तक श्रीकांत के बारे में जो जानकारी सामने आई है, उससे ये साफ हो गया है कि उसकी पुलिस-प्रशासन में अच्छी पकड़ थी। जिसका वो जमकर फायदा उठाता था।