Connect with us

Delhi

सीएम हेमंत सोरेन के करीबी के घर से मिली दो AK-47

Published

on

Two AK-47s found from the house of a close aide of CM Hemant Soren

सत्य खबर, दिल्ली

प्रवर्तन निदेशालय ED ने झारखंड में अवैध खनन में मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में 17 ठिकानों पर छापेमारी की. ये छापेमारी प्रेम प्रकाश से जुड़े ठिकानों पर मारी गई है. छापेमारी के दौरान ईडी को दो AK 47 राइफल मिली हैं. प्रेम प्रकाश कथित तौर पर झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का करीबी है.

बता दें कि आज बिहार में कई राजद नेताओं के ठिकानों पर सीबीआई ने छापेमारी की है. इस दौरान प्रवर्तन निदेशालय (ED) भी एक्टिव हो गया है. ईडी ने अवैध खनन में मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में झारखंड के 17-20 ठिकानों पर छापेमारी की है. झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा और बच्चू यादव से पूछताछ के बाद ईडी ने ये छापेमारी की. दोनों को कुछ समय पहले ही ईडी ने गिरफ्तार किया था. ईडी ने मार्च में मिश्रा और अन्य के खिलाफ PMLA एक्ट के तहत मामला दर्ज कर छापेमारी शुरू की थी.Two AK-47s found from the house of a close aide of CM Hemant Soren

ALSO CHECKOUT:

https://satyakhabarviral.com/

ALSO READ:

बिहार-दिल्ली समेत 25 ठिकानों पर छापेमारी CBI और ED की छापा मारी

ALSO READ:

सरकारी स्कूलों को बंद करने की साजिश कर रही है भाजपा सरकार: अनुराग ढांडा

 

बता दें कि केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई ने बिहार में 24 ठिकानों पर छापेमारी की है. बताया जा रहा है कि सीबीआई ने जॉब के बदले जमीन मामले में ये कार्रवाई की है. सीबीआई ने जिन जगहों पर छापेमारी की है, उनमें RJD एमएलसी सुनील सिंह, पूर्व आरजेडी एमएलसी सुबोध रॉय, राज्यसभा सांसद अशफाक करीम और फैयाज अहमद के ठिकाने भी शामिल हैं.

बिहार में RJD नेताओं के यहां सीबीआई की छापेमारी ऐसे वक्त पर हुई है, जब बुधवार को विधानसभा में फ्लोर टेस्ट से पहले स्पीकर ने इस्तीफा दे दिया है. ऐसे में आरजेडी ने इसे बदले की कार्रवाई करार देते हुए केंद्र की सत्ताधारी बीजेपी पर निशाना साधा है.Two AK-47s found from the house of a close aide of CM Hemant Soren

राजद से राज्यसभा सांसद मनोज झान ने कहा है कि छापे की कार्रवाई के दौरान आरजेडी एमएलसी सुनील सिंह ने कहा कि यह जानबूझकर किया जा रहा है. इसका कोई मतलब नहीं है. वे यह सोचकर जांच एजेंसियों का इस्तेमाल कर रहे हैं कि डर के मारे विधायक उनके पक्ष में आ जाएंगे. लेकिन हम डरेंगे नहीं.