Connect with us

Gurugram

विज्ञापन समिति के चेयरमैन की मिलीभगत से होल्डिंग्स माफियाओं की बल्ले-बल्ले  

Published

on

 

With the connivance of the chairman of the advertising committee, the holdings of the mafia bat-bat

सत्य खबर,गुरुग्राम, सतीश भारद्वाज 

 

साइबर ससटी में निगम अधधकाररयों की लापरवाही के चलते पूरे नगर निगम क्षेत्र में सरकारी संपत्तियों का दरुुपयोग कर होर्डिंग्स माफफया जमकर चांदी कूट रहे हैं शिकायत करने के बावजूद भी अधधकारी मौन बने हुए हैं। शहर वासी राजकरण यादव, रणवीर सिंह, अशोक यादव, नवीन, बिजेंदर, अजीत, बलदेव सिंह, आदि दर्जनों लोगों ने जानकारी देते हुए बताया कि निगम क्षेत्र के डीएलएफ, सुशांत लोक, निरवाना, राजेश पायलट रोड, पालम विहार,एमजी रोड सहित शहर के अन्य क्षेत्रों में सड़क के किनारे लगे बिजली के खंभों, सरकारी स्मारकों, ट्रैफिक के दिशा निदेशों पर अवैध रूप से होर्डिंग्स माफियाओं ने निगम अधिकारियों तथा विज्ञापन समिति के चेयरमैन की मिलीभगत से अवैध होर्डिंग्स, पोस्टर, बैनर लगाए हुए है|With the connivance of the chairman of the advertising committee, the holdings of the mafia bat-bat

जिससे साइबर सिटी बदरंग हो रही है वही निगम को भी जमकर चूना लगाया जा रहा है। वहीं वाहन चालकों को भी सड़क पर लगे दिशा निदेशों पर लगे अवैध बैनरस के कारण परेशानियों का‌ सामना करना पड़ रहा है। जिस पर पुलिस विभाग भी कोई कार्यवाही नहीं कर रहा है जिसकी शिकायत समाज सेवकों ने कई बार उच्च अधिकारियों को की है लेकिन अब तक कोई कार्यवाही नहीं हुई। कहीं निगम द्वारा लगाए गए वैध होर्डिंग स्थानों पर भी छूटभैया नेताओं ने कब्जा कर बिना कोई सरकारी फीस जमा कराए अपने होर्डिंग्स लगा रखे हैं।

जिसका मामला निगम में होने वाली सदन की बैठक में भी कई बार आ चुका है लेकिन फिर निगम की प्लानिगं शाखा में बैठे लापरवाह अधिकारी इस पर मौन धारण किए हुए है जिसके बारे में प्रदेश के मुख्यमंत्री ने भी अभी गत दिनों ही निगम कमिश्नर मुकेश कुमार आहुजा से कंपनियों पर बकाया राशि की जानकारी मांगी थी। लेकिन अधिकारियों का ढुलमुल कार्यप्रणाली के कारण सब फाइलों में बंद पड़ा है। वही बताया गया है निगम का कंपनियों पर करीब 300 करोड़ रुपया बकाया है। With the connivance of the chairman of the advertising committee, the holdings of the mafia bat-bat

 

क्या कहते हैं निगम कमिश्नर : 

निगम के एडिशनल कमिश्नर अमरदीप सिंह से बात की गई तो उनका कहना था कि आई हुई शिकायतों पर क्षेत्र के अनुसार संयुक्त आयुक्तों को तुरंत कार्यवाही के लिए भेज दी जाती है।

जब इस बारे में निगम के संयुक्त आयुक्त वन अखिलेश यादव से बात की गई तो पहले उन्होंने फोन ही नहीं उठाया फिर दोबारा मोबाइल पर बात की गई तो उन्होंने कहा शिकायतें आई हुई है जल्दी सेक्टर 21, 22, 23 व डूंडाहेड़ा, मलाहेड़ा काटरपुरी, सरहोल सहित जहां भी सरकारी संपत्ति पर अवैध होर्डिंग, बैनर, पोस्टर लगे हुए हैं उनको तुरंत हटा कर दोषियों के खिलाफ सरकारी संपत्ति का दुरुपयोग करने पर पुलिस में मुकदमा दर्ज कराया जाएगा।