Connect with us

Crime

कश्मीर फाइल्स के डायरेक्टर विवेक अग्निहोत्री के ऑफिस में घुसे दो लड़के, जानिए फिर क्या हुआ

Published

on

सत्य खबर, मुंबई । हाल ही में रिलीज हुई ‘द कश्मीर फाइल्स’ एक बड़ी हिट साबित हुई है। 11 मार्च को रिलीज हुई इस फिल्म ने 200 करोड़ रुपए का आंकड़ा पार कर लिया है। फिल्ममेकर विवेक अग्निहोत्री की हर तरफ तारीफ की जा रही है। हालांकि कुछ लोगों की तरफ से उनको आलोचना भी झेलनी पड़ रही है। अब फिल्म की रिलीज के बाद चुनौतियों और खतरों के बारे में बताते हुए विवेक अग्निहोत्री ने खुलासा किया कि दो लड़के मुंबई में उनके ऑफिस में उस वक्त घुस आए, जब वह वहां नहीं थे।

दो लड़के हमारे ऑफिस में घुसे, और…’ ‘द कश्मीर फाइल्स’ ने बॉक्स ऑफिस पर इतिहास रच दिया है। 15 करोड़ में बनी फिल्म ने 200 करोड़ का बिजनेस कर लिया है। इस फिल्म ने कई बिग स्टारर फिल्मों को पछाड़ दिया है। हालांकि फिल्म रिलीज होने के बाद से ही कंट्रोवर्सी में घिरी हुई है। और फिल्म की सक्सेस के बाद डायरेक्टर को धमकियां भी मिली हैं। बॉलीवुड हंगामा से बात करते हुए विवेक अग्निहोत्री ने खुलासा करते हुए कहा, ‘हां, धमकियां मिली हैं। हाल ही में दो लड़के हमारे ऑफिस में घुसे जब मैं और मेरी पत्नी वहां नहीं थे। केवल एक मैनेजर (अधेड़ उम्र की महिला) थी।’

लड़कों ने मेरे बारे में पूछताछ की और भाग गए’ घटना के बारे में विवेक अग्निहोत्री ने आगे बताया कि उन लड़कों ने मैनेजर को धक्का दिया, जिसके बाद वो दरवाजे पर गईं। लड़कों ने मेरे बारे में पूछताछ की और भाग गए। विवेक ने कहा कि मैंने इस घटना के बारे में कभी बात नहीं की, क्योंकि मैं नहीं चाहता था कि ऐसे लोगों को कोई पब्लिसिटी मिले। विवेक अग्निहोत्री के मुताबिक ‘द कश्मीर फाइल्स’ कोई फिल्म नहीं है। यह एक आंदोलन है। भारतीयों को एक दूसरे से जोड़ रही फिल्म फिल्म के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा, ‘कश्मीर फाइल्स को लेकर मिल रहे रिएक्शन से मैं काफी खुश हूं। दुनिया भर के दर्शक पिन ड्रॉप साइलेंस में फिल्म देख रहे हैं। 3 घंटे और 50 मिनट कोई मजाक नहीं है। पूरी दुनिया में लोग कश्मीरी पंडितों तक पहुंच रहे हैं।’ उन्होंने आगे कहा, ‘यह कनाडा में इतना अच्छा काम क्यों कर रहा है? इसकी शुरुआत दो शो के साथ हुई थी। अब यह 90 से ज्यादा शो है। फिल्म ने भारतीयों को हर जगह बातचीत और बहस में जोड़ा है।’

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.