Connect with us

Breaking News

राहुल गांधी से मुलाकात के बाद हरियाणा कांग्रेस के इन नेताओं ने कही ये बड़ी बात

Published

on

सत्य खबर, नई दिल्ली। हरियाणा कांग्रेस के नेताओं ने आज दिल्ली में पार्टी नेता राहुल गांधी से मुलाकात की. दिल्ली में राहुल गांधी के साथ हरियाणा कांग्रेस नेताओं की बैठक लगभग तीन घंटे तक चली. जिसके बाद नेताओं ने कहा कि वह सभी मतभेद दूर कर एकजुट हो कर पार्टी के लिये आने वाले समय में काम करेंगे. इस बैठक में हरियाणा कांग्रेस के प्रभारी विवेक बंसल, प्रदेश अध्यक्ष कुमारी सैलजा, पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा समेत हरियाणा कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता मौजूद थे. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी भी बैठक के दौरान राहुल गांधी के आवास पर पहुंची थीं, लेकिन कांग्रेस नेताओं ने बताया कि उनकी बैठक केवल राहुल गांधी के साथ ही हुई. सोनिया इस बैठक में मौजूद नहीं थीं.

बता दें कि बैठक के दौरान राहुल गांधी के आवास पर पहुंची सोनिया गांधी, लगभग 25 मिनट बाद ही वहां से निकल गई थीं. बैठक के बाद हरियाणा कांग्रेस के प्रभारी विवेक बंसल ने कहा कि बैठक में राहुल गांधी के सामने सभी नेताओं को अपनी बात रखने का पूरा मौका दिया गया. राहुल गांधी ने सभी नेताओं से एक-एक करके भी मुलाकात की और फिर सभी ने एक साथ बैठकर भी चर्चा की.उन्होंने कहा कि निष्कर्ष यही निकला कि नेताओं के बीच आपसी मतभेद दूर हों और सभी एकजुट हो कर पार्टी के लिये काम करें. वहीं संगठन और नेतृत्व में फेरबदल के सवाल पर विवेक बंसल ने कहा कि मीडिया में इस तरह की चर्चाएं चल रही हैं, लेकिन बहरहाल इस विषय पर कोई चर्चा नहीं हुई है. आज की बैठक पार्टी को मजबूत करने और आने वाले चुनावों में सभी नेता एकजुट हो कर काम करें, इस बात पर ही केंद्रित रही है.

 

वहीं प्रदेश कांग्रेस के संगठनात्मक चुनाव पर प्रभारी विवेक बंसल ने कहा कि चुनाव जल्द होंगे, लेकिन यह स्पष्ट नहीं कर सके कि कब तक चुनाव करा लिये जाएंगे. वहीं बैठक के बाद पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता भूपेंद्र हुड्डा ने कहा कि पार्टी में आपसी मतभेद होना सामान्य बात है, लेकिन नेताओं के बीच कोई मनभेद नहीं है, मतभेद दूर हो सकते हैं. चर्चा थी कि भूपेंद्र हुड्डा चाहते हैं कि हरियाणा कांग्रेस की कमान उनके बेटे और कांग्रेस के राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्डा को सौंप दी जाए, और नेतृत्व परिवर्तन के मुद्दे पर ही भूपेंद्र हुड्डा और अध्यक्ष कुमारी सैलजा के बीच मतभेद सामने आए थे. हालांकि इस बाबत सवाल पूछे जाने पर भूपेंद्र हुड्डा ने इससे इनकार किया और कहा कि ऐसी कोई बात नहीं है और न ही बैठक में इस पर चर्चा हुई.

वहीं कुमारी सैलजा ने कहा कि पार्टी में सभी नेता अपनी बात खुल कर रखते हैं, यह भी पार्टी के अंदर लोकतंत्र को दर्शाता है. यह कांग्रेस के अंदर ही संभव है. बहरहाल सभी नेताओं ने हरियाणा कांग्रेस में आपसी मतभेद की बात से इनकार नहीं किया, लेकिन साथ ही यह भी कहा कि वह सभी आपसी मतभेद को भूलकर एकजुट हो कर ही काम करेंगे. हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि राहुल गांधी के साथ 3 घंटे तक चली बैठक में सभी मसलों का हल निकल पाया या नहीं.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.