Connect with us

Business

हरियाणा वासी पति-पत्नी हवाई अड्डे पर अवैध हथियारों के जखीरे के साथ काबू

Published

on

सत्य खबर, नई दिल्ली। हरियाणा में अवैध हथियारों की तस्करी का मामला रूकने का नाम नहीं ले रहा है। अभी पिछले दिनों पलवल पुलिस ने 41 अवैध हथियारों समेत दो तस्करों को गिरफ्तार किया था। उससे पूर्व पानीपत पुलिस ने 35 अवैध हथियार बरामद किए थे। वहीं अब इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर हथियारों की तस्करी के आरोप में एक दंपति को गिरफ्तार किया गया है। सीमा शुल्क अफसरों ने इनके पास से 45 पिस्तौल बरामद की हैं। यह दंपति वियतनाम के हो ची मिन्ह शहर से दिल्ली पहुंचे थे। उनके साथ उनकी डेढ़ वर्ष की बच्ची भी थी। वियतनाम से दिल्ली पहुंचे जगजीत सिंह और उनकी पत्नी जसविंदर कौर को संदिग्ध प्रोफाइल के आधार पर आईजीआई पर रोका गया। दोनों डिफेंस कालोनी गुरुग्राम के रहने वाले हैं।

जगजीत सिंह के पास दो ट्रॉली बैग थे। दोनों ट्राली बैग से तलाशी के दौरान 45 पिस्तौल बरामद हुई। अधिकारियों ने बताया कि ‘बैलिस्टिक रिपोर्ट’ में इस बात की पुष्टि होगी कि बरामद हथियार असली हैं या नहीं। उन्होंने कहा, कि प्रारंभिक रिपोर्ट में, राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) ने इस बात की पुष्टि की है कि हथियार पूरी तरह से काम करने योग्य हैं। दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया और उनकी डेढ़ वर्षीय बच्ची को उसकी दादी को सौंप दिया गया है। मामले की जांच जारी है।

शक न हो पिस्टल वाले बैग से पेरिस का टैग हटाया

कस्टम अधिकारियों के अनुसार जगजीत ने बताया कि दोनों ट्राली बैग उसके बड़े भाई मंजीत के हैं। पेरिस से दिल्ली पहुंचे मंजीत की फ्लाइट भी उसी समय दिल्ली पहुंची थी। जब उनकी फ्लाइट पहुंची तो दोनों टर्मिनल थ्री पर मिले थे। आरोप है कि यहीं पर मंजीत ने दोनों ट्राली बैग जगजीत को दे दिए थे। लेकिन जगजीत एवं उसकी पत्नी ने बैग पर लगा पेरिस का टैग हटा दिया था ताकि किसी को संदेह न हो। अब कस्टम अधिकारी मंजीत की तलाश कर रहे हैं।

तुर्की से भी ला चुके हैं एयर पिस्टल

पूछताछ में दोनों ने बताया कि वे इससे पहले भी इसी प्रकार तुर्की से एयर पिस्टल की एक बड़ी खेप दिल्ली में खपा चुके हैं। तुर्की से 25 एयर पिस्टल ला कर उसे बड़े आराम से आईजीआई एयरपोर्ट से निकालने में कामयाब रहे थे। अब कस्टम इस मामले की भी जांच कर रही है। साथ ही इनकी पृष्ठभूमि भी खंगाल रही है।

पुलिस व एजेंसियां भी जांच में जुट गईं

दिल्ली पुलिस एवं अन्य सुरक्षा एजेंसियां भारी मात्रा में पिस्टल मिलने की जानकारी मिलते ही जांच जुट गई हैं। इसके बाबत पुलिस की एक टीम दोनों आरोपियों के घर पर भी गई है। साथ ही इस बात की भी जांच की जा रही है कि आखिर किन खामियों के चलते ये लोग पिस्टल लाने में कामयाब हो पा रहे थे। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि बिना अंदर के स्टाफ की मिलीभगत के यह संभव नहीं है। वहीं मंजीत जब पेरिस में विमान में सवार हो रहा था तब वहां की सुरक्षा एजेंसियों ने दोनों ट्रॉली बैग जांच के दौरान क्यों नहीं पकड़ा। इस बात की सूचना पेरिस एयरपोर्ट के सुरक्षा अधिकारियों को भी दे दी गई है।