Connect with us

Haryana

और जब अनुसूचित आयोग की चैयरपर्सन ने करवाए शादी के फेरे

सुनीता दुग्गल ने निभाई पंडित की भूमिका सत्यखबर, नारनौंद (दीपक गिरधर) – आज तक आपने शादी को करवाते हुए पंडितों को सुना व देखा होगा लेकिन आज की शादी अलग हटके हुई जिसमें एक महिला ने करवाये शादी के फैरे। बड़ी अच्छी तरह से फेरों के मंत्रो का मतलब समझाया। उन्होने बताया कि संस्कृत भाषा […]

Published

on

सुनीता दुग्गल ने निभाई पंडित की भूमिका

सत्यखबर, नारनौंद (दीपक गिरधर) – आज तक आपने शादी को करवाते हुए पंडितों को सुना व देखा होगा लेकिन आज की शादी अलग हटके हुई जिसमें एक महिला ने करवाये शादी के फैरे। बड़ी अच्छी तरह से फेरों के मंत्रो का मतलब समझाया। उन्होने बताया कि संस्कृत भाषा हमारे जीवन का एक अभिन्न अंग है। शादी में पानी ग्रहण का जो संस्कार है सृष्टि में सबसे बड़ा संस्कार है। इसके जरिये उनका जीवन में अटूट सबंध बनता है। आज एक दूसरे को समर्पित होते है। एक दूसरे के परिवार को अपना परिवार समझेगें व एक दूसरे के सुख दुख में सहयोग करेगें।

अनुसूचित आयोग की चैयरपर्सन सुनीता दुग्गल आज नारनौदं हलके के गांव माजरा में गरीब किसान संघर्श समिति के चैयरमैन कृश्ण माजरा के घर उसकी बहन की शादी में शिकरत करने पहुंची।

चैयरपर्सन सुनीता दुग्गल ने कहा कि मैं गांव के पंच व सरपंचो से आग्रह करती हूँ कि वे अपने अपने गांवों में युवाओं को समझाये कि उनको संयम धैर्य अनुशान इन सब का घ्यान रखते हुए चरित्र का विशेष ध्यान रखना चाहिए। अगर युवा पथ भ्रष्ट हो जाते है तो उनका विनाश होना स्वाभाविक है। अपराधियों को नसीहत देते हुए कहा कि कोई भी अपराधी ये ना सोचे की वो बच सकता है। अपराधी को कानून के हिसाब से हर हाल में सजा जरूर मिलती है।

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.