Connect with us

Haryana

नहर में डूबने से युवक की मौत, 20 घंटे बाद मिली डेड बॉडी

प्रशासन का नही मिला सहयोग, खुद पानी मे चैन बनाकर ढूंढा शव सत्यखबर, कैथल – नहर में नहाने पर सरकार ने पाबन्दी लगा रखी है लेकिन उसके बावजूद भी लोग नियमों को ताक पर रख कर नहर में छलांग लगा देते हैं। कैथल के गाँव प्यौदा में नहर में डूबने से अजय नामक एक युवक […]

Published

on

प्रशासन का नही मिला सहयोग, खुद पानी मे चैन बनाकर ढूंढा शव

सत्यखबर, कैथल – नहर में नहाने पर सरकार ने पाबन्दी लगा रखी है लेकिन उसके बावजूद भी लोग नियमों को ताक पर रख कर नहर में छलांग लगा देते हैं। कैथल के गाँव प्यौदा में नहर में डूबने से अजय नामक एक युवक की मौत हो गई। अजय गाँव नंदकरण माजरा का रहने वाला था और प्यौदा अपनी बुआ के यहाँ शादी समारोह में शामिल होने आया था। आज अजय की बुआ की लड़की की शादी है।

कल तीन बजे अजय व उसके अन्य दो रिश्तेदार नहर में नहाने गए थे तो तीनो में दो को तैरना कम आता था लेकिन इसके बावजूद भी नहर में छलांग लगा दी। जब डूबने लगे तो एक ने एक को तो बचा लिया लेकिन अजय पानी में बह गया। ढूढ़ने की कोशिश की गई लेकिन डेड बॉडी नहीं मिली तो नहर का पानी कम करवाया गया। नहर का पानी तो कम हो गया लेकिन प्रशासन के द्वारा किसी प्रकार की कोई हेल्प नहीं की गई। ना ही गोताखोर भेजे गए और ना ही कोई देखने तक आया। परिजनों ने लगभग 18 -20 घंटे के प्रयास के बाद खुद पानी में उतरकर मानव चेन बनाकर 25 किलोमीटर दूर गाँव सजूमा के पास डेड बॉडी को ढूंढा।

गौरतलब है की मृतक अजय की दो महीने पहले शादी हुई थी और वह चार बहनो में अकेला भाई था। अजय के पिता की पहले ही मौत हो चुकी है। पिता की मौत के बाद परिवार का बोझ अजय के कंधो पर था तो लुधियाना में किसी प्राइवेट कंपनी में नौकरी करता था।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.