Connect with us

Haryana

बिजली शार्ट सर्किट से लगी आग, कम्प्यूटर लैब जलकर राख

सत्यखबर, समालखा – गांव हथवाला स्थित राजकीय सीनियर सैकेंडरी स्कूल की कम्प्यूटर लैब में आग लगने के कारण सबकुछ जलकर राख हो गया। आग लगने का कारण बिजली की शार्ट सर्किट बताया जा रहा है। घटना सोमवार देर रात की है। मंगलवार सुबह चौकीदार ने झाड़ू लगाने के लिए लैब का दरवाजा खोला तो पता […]

Published

on

सत्यखबर, समालखा – गांव हथवाला स्थित राजकीय सीनियर सैकेंडरी स्कूल की कम्प्यूटर लैब में आग लगने के कारण सबकुछ जलकर राख हो गया। आग लगने का कारण बिजली की शार्ट सर्किट बताया जा रहा है। घटना सोमवार देर रात की है। मंगलवार सुबह चौकीदार ने झाड़ू लगाने के लिए लैब का दरवाजा खोला तो पता चला। प्रिंसिपल ने मामले से विभागीय अधिकारियों को अवगत कराया।

प्रिंसिपल गीता रानी ने बताया कि सोमवार को छुïट्टी के बाद सारा स्टाफ चला गया था। रात के समय स्कूल में चौकीदार अशोक रहता है। जिसने रात में बारह बजे के करीब बिजली के आने पर पम्प चलाकर पानी की टंकी भरी। लेकिन देर रात खराब बिजली सप्लाई के कारण शार्ट सर्किट होने पर कम्प्यूटर लैब में आग लगी और अंदर रखा सबकुछ सामान जलकर राख हो गया। मंगलवार को सुबह सात बजे के करीब जब चौकीदार अशोक ने झाड़ू लगाने के लिए जब लैब का दरवाजा खोला तो अंदर धुआं भरा हुआ था। जिसके बारे में उसने प्रिंसिपल को अवगत कराया। उन्होंने बीईओ को मामले की जानकारी दी।

प्रिंसिपल के मुताबिक आग लगने के कारण कम्प्यूटर लैब में रखा सबकुछ जलकर राख हो गया। जिसमें बीस एलसीडी, दो प्रोजेक्टर, चार बैटरी, तीन सीपीयू, दो प्रिंटर, 20 कुर्सी, 1 यूपीएस आदि शामिल है। इससे विभाग का एक लाख से ज्यादा का नुकसान हुआ है।

लोगों के भी जले उपकरण
एसएमसी प्रधान वीरभान ने बताया कि खराब बिजली सप्लाई के कारण न केवल सरकारी स्कूल की कम्प्यूटर लैब में रखा सामान जलकर राख हुआ, बल्कि गांव में भी काफी लोगों के बिजली उपकरण जल गए है। जिससे लोगों को भी काफी नुकसान हुआ है।

नहीं मिल पाएगा कम्प्यूटर का ज्ञान
स्कूल में हर रोज बच्चों को किताबी शिक्षा के साथ साथ कम्प्यूटर भी सिखाया जाता है। लेकिन कम्प्यूटर लैब में आग लगने के कारण सबकुछ जलने पर अब बच्चों को कम्प्यूटर का ज्ञान नहीं मिल पाएगा। जिससे कम्प्यूटर लैब में आग लगने पर बच्चों में भी मायूसी देखी गई।

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.