Connect with us

Crime

प्रेमी जोड़ों को ब्लैकमेल करने वाले गिरफ्तार, जानिए कैसे करते थे ब्लैकमेल

Published

on

Arrested for blackmailing lovers

Arrested for blackmailing lovers

सत्य खबर, नोएडा । होटल में रुकने के बहाने स्पाई कैमरे लगाकर प्रेमी जोड़ों का एमएमएस बनाकर ब्लैकमेल करने वाले गिरोह का कोतवाली फेज थ्री पुलिस ने खुलासा किया है। पुलिस ने गिरोह के दो बदमाशों गढ़ी चौखंडी निवासी विष्णु सिंह और खोड़ा निवासी अब्दुल बहाव को गिरफ्तार किया है। मामले की जांच में इन आरोपियों को सिम और उगाही के लिए किराए पर खाते उपलब्ध करने वाले छिजारसी निवासी पंकज कुमार और फर्जी कॉल सेंटर चलाने वाले गाजियाबाद निवासी अनुराग सिंह को आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस तीनों गिरोह के फरार आरोपियों की तलाश में जुटी है। नोएडा सेंट्रल जोन के एडीसीपी साद मियां खान ने बताया कि एक युवती ने उसके और प्रेमी का अश्लील वीडियो भेजकर ब्लैकमेल करने की शिकायत की थी। उससे डेढ़ लाख रुपये की रंगदारी मांगी गई थी। जांच के बाद कोतवाली फेज थ्री पुलिस ने रंगदारी मांगने वाले विष्णु सिंह और अब्दुल बहाव को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस पूछताछ में पता चला कि दोनों आरोपी ओयो होटल में जाकर एक रात के लिए कमरा बुक करते थे। उसी दौरान आरोपी वहां हिडन कैमरा लगा देते थे। करीब 20 से 25 दिन बाद फिर से उसी कमरे में दोनों आरोपी रुकते थे और हिडन कैमरे को निकाल लेते थे। Arrested for blackmailing lovers

कैमरे में उस अवधि में होटल के कमरे में जो रुके सभी लोगों का वीडियो रिकॉर्ड हो जाता था। वह बाद में उनसे संपर्क कर रंगदारी मांगते थे। कोतवाली फेज थ्री क्षेत्र के जिस होटल में इन आरोपियों ने हिडन कैमरा लगाया था। वहां पिछले बीस दिनों में एक ही जोड़ा रुकने आया था। जिनसे आरोपियों ने डेढ़ लाख रुपये मांगे थे।

Also check these links:

चीन में पार्टी के अधिवेशन से जबरदस्ती बाहर निकाले गए पूर्व राष्ट्रपति, जानिए क्यों

हिमाचल में बीजेपी नेता बने बीजेपी के लिए मुसीबत, जानिए कैसे

हेट स्पीच पर सुप्रीम कोर्ट का कड़ा रुख, जानिए क्या कहा

हिमाचल में बीजेपी नेता बने बीजेपी के लिए मुसीबत, जानिए कैसे

पुलिस ने जांच के दौरान दोनों आरोपियों को किराए पर बैंक खाता उपलब्ध कराने वाले छिजारसी निवासी पंकज कुमार को गिरफ्तार कर लिया। पंकज से पूछताछ में पता चला कि वह कैमरे में हिडन कैमरे लगवाने वालों के साथ फर्जी कॉल सेंटर चलाने वालों को भी खाते व सिम मुहैया कराता था। सिम और खाते की जांच के आधार पर पुलिस ने सेक्टर-63 में फर्जी कॉल सेंटर चलाने वाले अनुराग सिंह को भी गिरफ्तार कर लिया।

होटल में हिडन कैमरे लगाने वाले आरोपियों ने अश्लील वीडियो भेजकर ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया था। शुरुआत में युवती ने डरकर 17 हजार रुपये दे दिए थे। जिस खाते में पैसे ट्रांसफर किए गए थे उसकी जांच में दो अन्य मामले का खुलासा हुआ। बताया जाता है कि आरोपी युवकों ने कई अन्य होटल में भी इस तरह से हिडन कैमरे लगाए होंगे लेकिन अभी अन्य वीडियो की जानकारी पुलिस को नहीं मिली है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। Arrested for blackmailing lovers

कोतवाली फेज थ्री पुलिस ने सेक्टर-63 में चल रहे जिस फर्जी कॉल सेंटर को पकड़ा है। वह दुबई की एक कंपनी के नाम पर चलया जा रहा था। एडीसीपी ने बताया कि कॉल सेंटर संचालक अनुराग इस तरह की तीन अन्य कॉल सेंटर चला रहा था। इन कॉल सेंटर में दुबई की एक बड़ी कंपनी के नाम से लोगों को फोन किया जाता था और पचास फीसदी छूट के साथ आई फोन दिलाने के नाम पर ठगी किया जाता था। इन कॉल सेंटर को चलाने में शामिल अन्य आरोपी अभी फरार हैं।

10 से 15 हजार में किराए पर देते हैं खाते
जालसाजों को ठगी, उगाही व ब्लैकमेल के लिए गिरफ्तार आरोपी पंकज कुमार 10 से 15 हजार में किराए पर खाता उपलब्ध कराता था। दरअसल पंकज भोले भाले लोगों को नौकरी दिलवाने के नाम पर उनसे खाते खुलवा लेता था और सिम एक्टिवेट कराकर अवैध धंधों में लिप्त लोगों को किराए पर खाते देता था।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *