Connect with us

NATIONAL

हिमाचल में बीजेपी नेता बने बीजेपी के लिए मुसीबत, जानिए कैसे

Published

on

BJP leader becomes trouble for BJP

BJP leader becomes trouble for BJP

सत्य खबर, नई दिल्ली । हिमाचल प्रदेश के जिला कांगड़ा में भाजपा के चार बागी नेताओं ने निर्दलीय नामांकन भर कर पार्टी की मुश्किलों को बढ़ा दिया है। विधानसभा क्षेत्र फतेहपुर से कृपाल परमार ने आजाद नामांकन भर कर भाजपा प्रत्याशी राकेश पठानिया के समक्ष खुली चुनौती पेश कर दी है। वहीं, विधानसभा क्षेत्र इंदौरा से मनोहर धीमान ने नामांकन दर्ज कर भाजपा की मौजूदा विधायक रीता धीमान की मुश्किलें बढ़ा दी हैं।BJP leader becomes trouble for BJP

Also check these links:

सड़क हादसे में 15 लोगों की गई जान, जानिए कहां और कैसे

22 अक्टूबर का राशिफल: इन राशि वालों को करनी होगी शनिदेव की आराधना

राम रहीम सत्संग में ऐसे कर रहे हैं हनीप्रीत का जिक्र

जस्वां प्रागपुर हल्के से संजय पाराशर ने नामांकन भर कर विक्रम ठाकुर के समीकरणों को बिगाड़ दिया है। इसके अलावा ज्वालामुखी विधानसभा क्षेत्र छोड़कर देहरा से चुनाव लड़ने वाले रमेश के सामने देहरा के मौजूदा विधायक होशियार सिंह के रूप में पहाड़ जैसी विशाल चुनौती रहेगी। विधानसभा क्षेत्र कांगड़ा से कुलसुभाष चौधरी ने 25 तारीख को नामांकन भरने का ऐलान कर दिया है। अगर वह अपना नामांकन पत्र दाखिल करते हैं तो इससे पवन काजल की राह मुश्किल हो सकती है।

नतीजों पर पड़ेगा असर!
इस तरह से आगामी विधानसभा चुनाव में सबसे बड़े जिला कांगड़ा में भाजपा की मुश्किलें लगातार बढ़ती दिखाई दे रही हैं। कांग्रेस पार्टी में भी बगावत की आशंकाएं दिखाई दे रही थीं, मगर शीर्ष नेतृत्व के दखल और टिकट आवंटन से इन बागी चेहरों को मैनेज कर लिया। मगर काफी मान मनोव्वल के बाद भी भाजपा अपने बागी नेताओं को मना नहीं पाई। इसका सीधा सीधा असर चुनावी भाजपा के नतीजों पर देखने को मिल सकता है। देखना दिलचस्प होगा कि इस बगावत का भाजपा और कांग्रेस को कितना नुकसान झेलना पड़ता है।BJP leader becomes trouble for BJP