Connect with us

Haryana

इस सांसद ने कर डाली सीएम खट्टर के सामने पीएम मोदी से ब्राह्मण सीएम बनाने की मांग

Published

on

MP Arvind sharma demand to make haryana pandit cm

सत्य खबर , करनाल। सीएम मनोहर लाल और रोहतक सांसद अरविंद शर्मा के बीच सियासी शह और मात का खेल अभी भी जारी है। रविवार को करनाल के सेक्टर 12 स्थित हुडा ग्राउंड में भगवान परशुराम महाकुंभ राज्य स्तरीय समारोह का आयोजन किया जा रहा है। सीएम मनोहर लाल इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि रहे। कार्यक्रम में भाजपा सांसद अरविंद शर्मा, राज्यसभा सदस्य कार्तिकेय शर्मा, सांसद संजय भाटिया मौजूद रहे।MP Arvind sharma demand to haryana pandit cm

डॉ अरविंद शर्मा ने मंच से संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मांग की मुख्यमंत्री मनोहर लाल के बाद अगला जो मुख्यमंत्री हो वह ब्राह्मण समाज से हो। जिस तरह से देश के प्रधानमंत्री ने एक आदिवासी समाज से आने वाली महिला को देश का राष्ट्रपति बनाया है, उसी तरह हरियाणा में अगला मुख्यमंत्री ब्राह्मण समाज से होना चाहिए। वहीं उन्होंने परशुराम जयंती पर सरकारी छुट्टी की मांग की।

Also check these links:

जम्मू कश्मीर के इन 20 नेताओं की सुरक्षा छीनी, जानिए क्यों

हरियाणा: पानी को लेकर भाई बना भाई की जान का दुश्मन, जानिए क्या है मामला

जानिए कब तक और कितनी लागत से तैयार होगा देश का सबसे लंबा एक्सप्रेसवे, यह होगी खासियत

देवेंद्र बबली और सरपंचों में हुई तीखी नोकझोंक, पढ़िए की किस बात को लेकर हुआ ये तीखी बहस

कार्यक्रम भले ही गैर राजनीतिक हो, लेकिन विशुद्ध रूप से इसके पीछे राजनीति काम कर रही है। सीएम मनोहर लाल की कोशिश है कि ब्राह्मण समाज में जबरदस्त पैठ बनाई जाए। अभी ब्राह्मण समाज में नेता के तौर पर सांसद अरविंद शर्मा का नाम भाजपा में लिया जा रहा है। अरविंद शर्मा कई मौकों पर सीएम के सामने चुनौती भी पेश कर चुके हैं। ऐसे में सीएम खेमे की कोशिश है कि किस तरह से सांसद अरविंद शर्मा का सियासी कद छोटा किया जाए। इस कार्यक्रम के पीछे इसी तरह की सियासी सोच काम कर रही है।

इस कार्यक्रम में सीएम खेमा बहुत ही सुनियोजित तरीके से राज्यसभा सदस्य कार्तिकेय शर्मा को आगे बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं। कार्तिकेय शर्मा को राज्यसभा में पहुंचाने में भी प्रदेश भाजपा की बड़ी कोशिश रही थी। यदि कार्तिकेय शर्मा का सियासी कद बढ़ता है तो निश्चित ही इसे अरविंद शर्मा को काउंटर किया जा सकता है। ध्यान रहे कार्तिकेय शर्मा पूर्व कांग्रेसी नेता विनोद शर्मा के बेटे हैं, जो एक समय ब्राह्मण समाज के बड़े नेता माने जाते रहे हैं।

अरविंद शर्मा की टिप्पणी के सियासी मायने
अरविंद शर्मा ने ब्राह्मण समाज से सीएम बनाने की मांग कर सीएम मनोहर लाल खेमे की कोशिशों को टारपीडो करने की कोशिश की है। जाहिर है, उन्होंने ऐसा बोलते हुए सीएम को एक तरह से चैलेंज भी किया है, इसके साथ ही अपने तेवर से भी अवगत कराने की कोशिश की है। यह पहला मौका नहीं है, अरविंद शर्मा ने सीएम के प्रति इस तरह के तेवर दिखाए है।MP Arvind sharma demand to haryana pandit cm

पहले दे चुके विवादित बयान
रोहतक से भाजपा के सांसद अरविंद शर्मा ने सीएम मनोहर लाल खट्टर पर विवादित बयान देते हुए बोल दिया था कि सीएम अपने दिमाग से काम नहीं लेते। रोहतक जिले के गांव पहरावर गांव में जमीन को लेकर चल रहे विवाद में अरविंद शर्मा ने यह बयान दिया था। इसके बाद सीएम और सांसद के बीच कई बार इस तरह के बयान दिए गए। हालांकि बाद में अरविंद शर्मा के तेवर ढीले पड़ गए थे।

इस तरह से यह मामला शांत हो गया था। लेकिन आज जिस तरह से एक बार फिर से सीएम के मंच पर सांसद ने अपने तेवर दिखाए, इससे यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि कार्तिकेय शर्मा को यदि सीएम खेमा आगे बढ़ाने की कोशिश करता है तो वह चुप रहने वाले नहीं है।