Connect with us

Delhi

भारत में अब अंतिम संस्कार की सभी रस्में पूरी कराएगी यह कंपनी

Published

on

This company will complete all the funeral rituals

This company will complete all the funeral rituals

सत्य खबर, नई दिल्ली । आपने तरह-तरह की सर्विस के बारे में सुना होगा, लेकिन क्या कभी ‘फ्यूनरल एंड डेथ सर्विस‘ के बारे में सुना है? दरअसल, इसका मतलब होता है कि मरने के बाद इंसान के अंतिम संस्कार की सारी तैयारियां कंपनी ही करेगी. चाहे कंधा देने के लिए चार लोगों का इंतजाम करना हो या फिर पंडित-नाई की जरूरत हो, ये सारी व्यवस्थाएं कंपनी ही कराएगी. है ना यह अजीबोगरीब बात? वैसे जापान या अन्य कई देशों में ये सर्विस आम है और अब भारत में भी इसकी शुरुआत हो रही है. जी हां, दिल्ली ट्रेड फेयर में आजकल एक खास और अनोखा स्टार्टअप चर्चा में आ गया है, जिसके बारे में जानकर हर कोई हैरान है और सोशल मीडिया पर कुछ लोग तो इसपर मजे भी ले रहे हैं.

दरअसल, इस अनोखे स्टार्टअप का नाम है सुखांत फ्यूनरल मैनेजमैंट (सुखांत अंतिम संस्कार). ट्रेड फेयर में दिख रहे इस अनोखे स्टार्टअप की खास बात ये है कि यहां वो सारी वस्तुएं और व्यवस्थाएं मौजूद हैं, जो किसी इंसान के मरने के बाद काम आती हैं. स्टॉल पर सजी सजाई अर्थी पर उपलब्ध है. यह अनोखा स्टॉल व्यापार मेले में लोगों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित कर रहा है.

Also check these news links: 

पत्नी की हत्या कर शव पर चढ़ाई फूल माला, फिर किया यह चौंकाने वाला काम

मरने से पहले महिला दे गई अपने अंतिम संस्कार के पैसे और कर लिया सुसाइड, जानिए पूरा मामला

रविवार को है एकादशी का व्रत, यह है शुभ मुहूर्त और नियम

मां के आंचल से लिपटे मासूम को जाना पड़ा जेल, जानिए क्यों

क्या-क्या कराएगी कंपनी?
इस स्टार्टअप की खास बात ये है कि अर्थी को कांधा देने से लेकर, साथ में चलने वाले और राम नाम सत्य बोलने वाले और पंडित, नाई सब कंपनी की तरफ से ही होंगे. यहां तक कि मरने वालों की अस्थियों का विसर्जन भी कंपनी वाले ही करवाएंगे, यानी अंतिम क्रिया से जुड़ी जितनी भी चीजें हैं, वो सारी चीजें कंपनी की तरफ से ही उपलब्ध करवाई जाएंगी. जानकारी के मुताबिक, लोगों के अंतिम संस्कार की सारी व्यवस्थाओं के बदले कंपनी ने 37,500 रुपये फीस रखी है.

लोग बता रहे नया स्टार्टअप
सुखांत फ्यूनरल मैनेजमैंट रेडिमेड अर्थी की सुविधा भी दे रहा है, जिसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही हैं. इस अलग तरीके के प्रयोग को यूजर्स नया और अनोखा स्टार्टअप बता रहे हैं, साथ ही कुछ यूजर्स इसपर मजे भी ले रहे हैं.

कोई कह रहा है कि ‘मरने के बाद शव को जिस चीज की जरूरत होती है, वो सब मुहैया कराएगी. समझ लीजिए मरने के बाद की मैनेजमेंट कंपनी है’, तो कोई कह रहा है कि ‘हे भगवान, यही देखना बाकी था. संयुक्त से एकल और अब एकल परिवार में भी अकेले रहने वाले लोगों तथा ऐसे समाज के लिए नया स्टार्टअप. जहां आपके शव को कंधा देने के लिए चार लोग भी इकट्ठा नहीं आएं तो सुखांत फ्यूनरल मैनेजमैंट से संपर्क करें’.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *