Connect with us

Haryana

जमीन स्कूल को नहीं मिली तो 18 दिसम्बर को करूंगा आमरण अनशन – रामदास प्रजापत

सत्यखबर, सफीदों (महाबीर मित्तल) – नगर की आदर्श कॉलोनी स्थित राजकीय माध्यमिक विद्यालय के लिए साथ लगती जमीन विद्यालय को देने का मामला गहरा गया है। नगरपालिका इस जमीन पर पार्क बनाना चाहती है लेकिन इस कालोनी के लोग खासकर इस स्कूल के उत्थान के लिए संघर्षरत्त भाजपा नेता रामदास प्रजापत इस जमीन को स्कूल […]

Published

on

सत्यखबर, सफीदों (महाबीर मित्तल) – नगर की आदर्श कॉलोनी स्थित राजकीय माध्यमिक विद्यालय के लिए साथ लगती जमीन विद्यालय को देने का मामला गहरा गया है। नगरपालिका इस जमीन पर पार्क बनाना चाहती है लेकिन इस कालोनी के लोग खासकर इस स्कूल के उत्थान के लिए संघर्षरत्त भाजपा नेता रामदास प्रजापत इस जमीन को स्कूल के साथ जुड़वाकर इसमें बच्चों के लिए खेल का मैदान बनवाना चाहते हैं। इस कसमकस के बीच रामदास प्रजापत ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल को पत्र लिखकर इस जमीन को स्कूल के साथ जोडऩे का अनुरोध किया था लेकिन इस दिशा में कोई कार्रवाई ना होने की सूरत में रामदास प्रजापत ने अब मुख्यमंत्री को स्मरण पत्र लिखा है और यह भी कहा है कि अगर यह जमीन स्कूल को नहीं दी गई तो वे 18 दिसम्बर को नगर के महाराजा अग्रसैन चौंक पर अनिश्चितकालीन आमरण अनशन करेंगे।

स्मरण पत्र में रामदास प्रजापत ने कहा कि नगर की आदर्श कालोनी स्थित राजकीय माध्यमिक विद्यालय के साथ लगती सवा एकड़ जमीन को इस विद्यालय को देने के लिए नगरपालिका सचिव, सफीदों प्रशासन, जिला उपायुक्त, विधायक जसबीर देशवाल सफीदों व शहरी निकाय मंत्री कविता जैन के माध्यम से मुख्यमंत्री को गुहार लगाए जाने के बावजूद नगरपालिका ने इस जमीन में पार्क बनाने का प्रस्ताव पारित करके उपायुक्त जींद को भिजवा दिया। जबकि इस जमीन को विद्यालय को देने के लिए विधायक जसबीर देशवाल व 11 नगर पार्षदों का समर्थन किया गया है। रामदास का कहना है कि इस विद्यालय में लगभग 500 छात्र-छात्राएं शिक्षा ग्रहण कर रही हैं। स्थान के अभाव में सातवीं व आठवीं की कक्षा में केवल छात्राओं को ही दाखिला दिया गया है। उन्होंने कहा कि नौवीं से बाहरवीं कक्षा के लिए निकट भविष्य में सरकार के सहयोग से यह विद्यालय राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के रूप अपग्रेड हो सकता है और इस विद्यालय में बच्चों की संख्या करीब 800 होने की संभावनाएं हैं।

उन्होंने कहा कि इन सब परिस्थितियों के बावजूद भी नगरपालिका बच्चों के भविष्य से जुड़ी इस जमीन को पार्क के लिए देने पर अड़ी हुई है। गरीब व मजदूरों के बच्चों का सर्वांगीण विकास शिक्षा से होगा पार्क से नहीं। रामदास प्रजापत ने मुख्यमंत्री से अनुरोध किया कि बच्चों के समग्र विकास के इस मामले में व्यक्तिगत रूचि लेकर इस जमीन को विद्यालय को दिलवाएं। स्मरण पत्र में रामदास प्रजापत ने यह जोड़ा की अगर यह जमीन स्कूल को नहीं दी गई तो वे आगामी 18 दिसम्बर को नगर के महाराजा अग्रसैन चौंक पर अनिश्चितकालीन आमरण अनशन पर बैठने को मजबूर होंगे। रामदास प्रजापत ने बिना नाम लिए यह भी आरोप लगाया कि सफीदों के कुछ भाजपा नेता इस पुनित कार्य में रोड़ा बने हुए है और वे नगरपालिका को शह देकर बच्चों के भविष्य से जुड़ी इस जमीन में पार्क बनवाने की बात कह रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा नेता कितना भी अडंगा अड़ा ले लेकिन वे किसी भी सूरत में बच्चों के भविष्य के साथ कतई खिलवाड़ नहीं होने देंगे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *