Connect with us

Haryana

अटल बिहारी वाजपेयी का जीवन चरित्र शब्दों में नहीं पिरोया जा सकता – नरेश बराड़

सत्यखबर, सफीदों (महाबीर मित्तल) – युवा व्यापार मंडल सफीदों के तत्वावधान में रविवार को नगर की अग्रवाल धर्मशाला में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेेयी के निधन पर श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। इस श्रद्धाजंलि सभा की अध्यक्षता युवा व्यापार मंडल के अध्यक्ष हिमलेश जैन ने की। कार्यक्रम में बतौर मुख्य वक्ता प्राईवेट स्कूल एसोसिएशन […]

Published

on

सत्यखबर, सफीदों (महाबीर मित्तल) – युवा व्यापार मंडल सफीदों के तत्वावधान में रविवार को नगर की अग्रवाल धर्मशाला में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेेयी के निधन पर श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। इस श्रद्धाजंलि सभा की अध्यक्षता युवा व्यापार मंडल के अध्यक्ष हिमलेश जैन ने की। कार्यक्रम में बतौर मुख्य वक्ता प्राईवेट स्कूल एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष नरेश सिंह बराड़, पूर्व पालिका प्रधान रामेश्वर दास गुप्ता, उद्योगपति शिवचरण गर्ग, अग्रवाल समाज के नेता योगेश दीवान व भाजपा के वरिष्ठ नेता जसमेर रजाना ने शिरकत की। मंच का संचालन नगर पार्षद अखिल गुप्ता ने किया। शुभारंभ में अटल बिहारी वाजपेयी प्रतीमा पर माल्यार्पण व पुष्पांजलि अर्पित की गई और उनकी आत्मा की शांति के लिए 2 मिनट का मौन धारण किया गया।

अपने संबोधन में नरेश सिंह बराड़, रामेश्वर दास गुप्ता, शिवचरण गर्ग, योगेश दीवान व जसमेर रजाना ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी युग पुरूष थे और उनके जीवन चरित्र को शब्दों में नहीं पिरोया जा सकता है। अटल बिहारी वाजपेयी का जाना राजनीति व साहित्य के लिए धक्का है। उन्होंने अपना सारा जीवन देशसेवा में लगाया। वे सदैव केवल और केवल देशहित की बात किया करते थे। वे अपने विरोधी को भी दोस्त की नजर से देखते थे। यही कारण है कि देश की सभी राजनीतिक दलों के लोग उनको पूरा मान-सम्मान करते थे। उनके द्वारा किए गए कार्यों की गुंज केवल भारत ही नहीं बल्कि विदेशों तक भी थी। पोखरण में परमाणू बम का परिक्षण करके उन्होंने देश का मान पूरे विश्व में बढ़ाया। वे कहा करते थे कि आप अपने मित्र तो बदल सकते हैं लेकिन पड़ौसी नहीं। पड़ौसी देश पाकिस्तान से संबंध सुधारने की दिशा में उन्होंने भारत-पाक बस सेवा शुरू की।

अटल बिहारी वाजपेयी के रूप में देश ने एक युगपुरूष खोया है, जिसकी भरपाई कभी भी हो पाएगी। हर इंसान को अटल बिहारी वाजपेयी के जीवन चरित्र से सीख लेनी चाहिए। उनके कार्यों व विचारों को अपने जीवन में धारण करना ही अटल बिहारी वाजपेयी को सच्ची श्रद्धांजलि होगी। इस मौके पर मुख्य रूप से गौशाला एसोसिएशन के अध्यक्ष शिवचरण कंसल, अग्रवाल वैश्य समाज के अध्यक्ष प्रवीन मित्तल, मार्किट कमेटी उपाध्यक्ष शिवचरण गर्ग, नगर पार्षद अखिल गुप्ता, सतीश मंगला, आशीष खर्ब, कुसल सिंगल, रविंद्र कश्यप, राजपाल, गौरव अरोड़़ा, सुमेर जैन, अनिल धनवारिया व राजेश जैन सहित काफी तादाद में लोग मौजूद थे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *