Connect with us

Haryana

अहीर रेजिमेंट के गठन के लिए तहसीलदार के माध्यम से प्रधानमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन

सत्यखबर, महेंद्रगढ़ (मुन्ना लाम्बा) – अहीर रेजिमेंट के गठन हेतु प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम तहसीलदार महेंद्रगढ़ को सौंपा ज्ञापन। बृहस्पतिवार को सरताज जनसेवा ग्रुप पीआरओ कुलदीप यादव के नेतृत्व में सैकड़ों युवाओं व ग्रामीणों द्वारा अहिर रेजिमेंट के गठन हेतु प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम तहसीलदार महेंद्रगढ़ को ज्ञापन सौंपा गया। इस अवसर पर […]

Published

on

सत्यखबर, महेंद्रगढ़ (मुन्ना लाम्बा) – अहीर रेजिमेंट के गठन हेतु प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम तहसीलदार महेंद्रगढ़ को सौंपा ज्ञापन। बृहस्पतिवार को सरताज जनसेवा ग्रुप पीआरओ कुलदीप यादव के नेतृत्व में सैकड़ों युवाओं व ग्रामीणों द्वारा अहिर रेजिमेंट के गठन हेतु प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम तहसीलदार महेंद्रगढ़ को ज्ञापन सौंपा गया।

इस अवसर पर कुलदीप यादव ने कहा कि अहीर समाज भारत का एक बहुसंख्यक समाज है तथा करोड़ों की संख्या व सदैव राष्ट्रहित तथा रक्षा के लिए आगे आने वाले यादवों की भारतीय सेना में कोई रेजिमेंट नहीं है। यादव जाति के वीर योद्धाओं ने भारत की आजादी के लिए हुई विभिन्न क्रांतियों व महासंग्रामों में बढ़-चढक़र भाग लिया व बलिदान दिया, लेकिन ब्रिटिश शासन के दौरान यादवों के लिए कोई रेजिमेंट नहीं बनाई गई। हमारे पूर्वजों ने देश के लिए लड़ाई लड़ी है परंतु आज अनेक दशकों बाद अहीर रेजिमेंट को लेकर कोई कदम नहीं उठाया गया। वर्तमान में भारतीय सेना में अनेक ऐसी रेजिमेंट हैं जिनका गठन जाति, सम्प्रदाय अथवा क्षेत्र के आधार पर है। वह चाहे कुमाऊ रेजिमेंट (क्षेत्र आधारित), जाट व राजपूत रेजिमेंट (जाति आधारित), सिख रेजिमेंट (धर्म/सम्प्रदाय आधारित) ही क्यों न हो। इन तमाम जाति, क्षेत्र व सम्प्रदाय आधारित रेजिमेंट में सम्बंधित जाति, क्षेत्र व सम्प्रदाय के लोगों को बड़ी संख्या में भर्ती मिलती है। जब भारतीय सेना में कुछ जातियों की अपनी रेजिमेंट है तो यादव/अहीर रेजिमेंट क्यों नहीं?

यादव ने कहा कि अहीर रेजिमेंट की मांग केवल एक मांग भर नहीं है बल्कि यह हमारा अधिकार है। यह करोड़ों यादवों के आत्म सम्मान की बात है। साथ ही, इससे यादव युवक भारतीय सेना के प्रति सजग, गंभीर व प्रेरित होंगे एवं सेना में यादवों की भागीदारी भी बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि यादव भारतीय सेना के प्रति कितने उत्साहित तथा सम्मान रखते हैं, यह इस उदाहरण से ही समझा जा सकता है कि देश में सबसे ज्यादा जवान देने वाले राज्य हरियाणा में बड़ी संख्या में फौजी जवान अहीरवाल क्षेत्र से आते हैं। वीर अहीरों की भूमि में जन्मे वीर अहीर राव तुलाराम, राव गोपालदेव जैसे वीरों ने सदैव मातृभूमि के लिए संघर्ष किया। आजाद भारत में भी तमाम यादव वीर हुए जिन्होंने मातृभूमि के लिए संघर्ष किया व बलिदान दिया तथा अनेक पदकों से सम्मानित हुए।

उन्होंने कहा कि 1962 के भारत-चीन युद्ध में अनेकों अनेक यादव जवानों ने बलिदान दिया तथा रेजांग-ला के मोर्चे पर वीर अहीरों ने जो शौर्य दिखाया वह विश्व विख्यात है। इसलिए यादव समाज के स्वाभिमान व अधिकार हेतु अहीर रेजिमेंट का गठन अति आवश्यक है। कुलदीप यादव ने कहा कि हम इस ज्ञापन के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर से रेजिमेंट के गठन के लिए अनिवार्य कदम उठाने की अपील करते हैं ताकि तमाम अहिरों को उनका अधिकार मिल सके। इस अवसर पर सुनील प्रधान रिवासा, विक्रम माजरा, गहाड़ सिंह माजरा, सरपंच प्रतिनिधि जगराम यादव माजरा, मोनी यादव, सुरेंद्र भागड़ाना, अमित रिवासा, नीरज लावन, संकर लावन, कुलदीप गांधी नांगल काठा, महेंद्र खैरोली, नरेश खातौद समेत अनेक गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *