Connect with us

Haryana

गांव के ग्रामीणों को किया ठीकरी पहरा लगाने के प्रति जागरूक

सर्दी के मौसम में चोरी की घटनाओं को कम करने का एकमात्र उपाय है ठीकरी पहरा – राजेंद्र सिंह सत्यखबर, सतनाली मंडी (मुन्ना लाम्बा) – कड़ाके की ठंड आम लोगों को भले ही परेशान करती है, लेकिन इसमें चोरों की मौज रहती है। सर्दी के महीनों में चोरी की घटनाएं इतनी बढ़ जाती हैं जितनी […]

Published

on

सर्दी के मौसम में चोरी की घटनाओं को कम करने का एकमात्र उपाय है ठीकरी पहरा – राजेंद्र सिंह
सत्यखबर, सतनाली मंडी (मुन्ना लाम्बा) – कड़ाके की ठंड आम लोगों को भले ही परेशान करती है, लेकिन इसमें चोरों की मौज रहती है। सर्दी के महीनों में चोरी की घटनाएं इतनी बढ़ जाती हैं जितनी पूरे वर्ष में नहीं होती। धुंध व ठंड में लोग बिस्तरों में दुबक जाते हैं, जिसका फायदा उठाकर चोर घरों में घुसते हैं तथा आसानी से हाथ की सफाई दिखा जाते हैं। चाहे वह पशु व वाहन चोरी या घरों में सेंधमारी की घटनाएं ही क्यों न हों? इन्हें रोकने का एकमात्र तरीका ठीकरी पहरा है, जिसके माध्यम से चोरी की घटनाएं तो कम होती ही हैं, साथ ही पुलिस को अपने कार्य में सहायता मिलती है।

उक्त विचार सतनाली थाना प्रभारी राजेंद्र सिंह ने क्षेत्र के गांव डालनवास में आयोजित एक बैठक के दौरान ग्रामीणों को जागरूक करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि सर्दी के समय में पुलिस द्वारा ठीकरी पहरा लगाने वालों की हर संभव मदद की जाएगी। उन्हें किसी तरह की परेशानी नहीं होने दी जाएगी। ठीकरी पहरा हर तरह से ग्रामीणों के लिए फायदेमंद है। इससे अपनी सहित गांव की सुरक्षा होती है। सतनाली क्षेत्र राजस्थान सीमा से सटा होने के कारण यहां चोरी की वारदातों की संभावना ज्यादा रहती है, जिनमें पहरा देकर कमी आ सकती है।

उन्होंने कहा कि अगर ठीकरी पहरा करने वालों को कोई संदिग्ध व्यक्ति मिलता है तो तुरंत इसकी सूचना पुलिस को दें। पुलिस के लिए शहरी क्षेत्र में गश्त करना आसान है। लेकिन प्रत्येक गांव में जाकर गलियों में पहरेदारी नहीं हो सकती। इसके लिए ठीकरी पहरा लगाना जरुरी है। उन्होंने कहा कि पहरा रात 10 बजे से सुबह 4 बजे तक गांव के प्रत्येक स्थान पर घूमकर दिया जाएगा। इसके साथ-साथ पुलिस टीम भी रात को गश्त करती रहेगी। इस मौके पर ग्रामीणों ने भी ठीकरी पहरा पर अपनी सहमति जताई।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *