Connect with us

Haryana

टीचरों की कमी को लेकर गुरूकूल की छात्राओं का गुस्सा 7वें आसमान पर! कक्षाओं का किया बहिष्कार

सत्यखबर नरवाना (गुलशन चावला) – सरकार द्वारा बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान नरवाना में फेल होता नजर आ रहा है। नरवाना के गुरूकूल खरल के अंदर टीचरों की कमी के कारण छात्राओं का गुस्सा फू ट पड़ा और प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उन्होंने कहा कि जबतक टीचर नहीं आएगें हमारा कक्षाओं का बहिष्कार […]

Published

on

सत्यखबर नरवाना (गुलशन चावला) – सरकार द्वारा बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान नरवाना में फेल होता नजर आ रहा है। नरवाना के गुरूकूल खरल के अंदर टीचरों की कमी के कारण छात्राओं का गुस्सा फू ट पड़ा और प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उन्होंने कहा कि जबतक टीचर नहीं आएगें हमारा कक्षाओं का बहिष्कार जारी रहेगा।

डेढ माह के बाद नरवाना गुरूकूल खरल में भगत फूल सिंह यूनिवर्सिटी खानपुर के रिजनल सैंटर में परिक्षाएं होनी है। लेकिन बीएससी की छात्राओं के लिए मैथ, केमिस्ट्री, फिजिक्स के टीचर पिछले कई माह से नही हैं। जिससे छात्राओं का भविष्य दाव पर लगा है। छात्राएं गुहार लगाकर थक चुकी है। लेकिन उनक पुकार सुनने

वाला कोई नहीं है। मजबूरीवश छात्राओं ने अपने मुंह पर क पड़ा ढांप कर नारेबाजी की और कहा कि बार सफेद दुपट्टे के साथ प्रदर्शन हुआ है। लेकिन अगली बार यह प्रदर्शन काले दुपट्टे के साथ होगा। कक्षाओं का बहिष्कार कर महाविद्यालय के मुख्य गेट पर प्रदर्शन किया।

जब इस बारे महाविद्यालय के स्टाफ से बात करनी चाहिए तो उन्होंने चुप्पी साधी और कहा इसके लिए आप वीसी से बात करें।

परिवार वाले हमें कॉलेज में पढऩे के लिए भेजते हैं खेलने के लिए नहीं। लेकिन यहां टीचर ही नहीं है तो कैसे होगी पढ़ाई। परिक्षाएं नजदीज आ रही है और हमें मैथ, फिजिक्स व कैमिस्ट्री के टीचर ही नही है। बिन टीचर कैसे होगी पढाई।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कहते हैं कि बेटी पढाओ लेकिन बिन टीचर कैसे पढ़ेगी बेटियां। हम पहले भी कई बार गुहार लगा कर थक चुकी है। लेकिन कुछ नहीं होती  सुनवाई। परिक्षाओं को समय नजदीक आ चुका है और हमारा काम अधूरा है। डेढ महीने  बाद परिक्षाएं होनी है और हम 20 बार शिकायत दे चुकी हैं। टीचर ना होने के कारण हमारा एक वर्ष हो जाएगा खराब।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *