Connect with us

Ambala

प्रेम प्रसंग के मामले में आरोपी प्रेमी ने 26 वर्षीय प्रेमिका व उसके 11 वर्षीय पुत्र को उतारा मौत के घाट

सत्यखबर,अंबाला (रोज़ी बहल  ) प्रेम प्रसंग के मामले में आरोपी प्रेमी ने 26 वर्षीय प्रेमिका व उसके 11 वर्षीय पुत्र को मौत के घाट उतार कर बेगना नदी में दफनाया दिया।  नारायणगढ़ के गांव बडागाव के आरोपी सुमीत उर्फ नीटू को गिरप्तार करने पर यह राज खुले,गांव गनौली के हरजीत सिंह ने पुलिस में शिकायत दी […]

Published

on

सत्यखबर,अंबाला (रोज़ी बहल  )

प्रेम प्रसंग के मामले में आरोपी प्रेमी ने 26 वर्षीय प्रेमिका व उसके 11 वर्षीय पुत्र को मौत के घाट उतार कर बेगना नदी में दफनाया दिया।  नारायणगढ़ के गांव बडागाव के आरोपी सुमीत उर्फ नीटू को गिरप्तार करने पर यह राज खुले,गांव गनौली के हरजीत सिंह ने पुलिस में शिकायत दी थी कि उसकी पत्नी व पुत्र जो 20 मार्च से घर से माथा टेकने गए थे जो लोट कर नही आए थे। पुलिस ने गुमशुदगी का मामला दर्ज किया था। अब पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी के द्वारा बताई लोकेशन पर बेगने नदी से दोनों शवों को बरामद किया। डीएसपी राजबीर ने बताया कि  नारायणगढ़ के गांव गनौली के हरजीत सिंह ने पुलिस में शिकायत दी थी कि उसकी पत्नी कमलप्रीत व उसका पुत्र राहुल जो 20 मार्च को गांव बल्लोपुर डेरा में गए थे लेकिन लोट कर नही आए तो शहजादपुर पुलिस ने गुमशुदगा का पर्चा दर्ज कर मोबाईल लोकेशन पर जांच की तो गांव बडागाव का सुमित उर्फ नीटू का गिरफ्तार करने पर उसने जब राज खोले तो उसने बताया कि उसका गांव गनोली की हरजीन्द्र की पत्नी कमलप्रीत जो किसी कैटरिंग में काम करती थी और सुमित भी वही काम करता था जिसपर दोनों में प्रेम प्रसंग हो गया इस पर दोनों का एक दुसरे के घर आना जाना शुरू हो गया। लेकिन रास्ते में उसका लडका आ रहा था। इस पर उसने 20 मार्च को कमलप्रीत व उसका लडका राहुल उसके घर आए थे। इस पर सुमित ने उसे बताया कि हम दोनो इकट्ठा रहेगें और इस लडको को रास्ते से हटा देते है जिसके बाद उसने उस लडके को मौत के घाट उतार दिया। जिस पर कमलप्रीत ने विरोध करते हुए कहनी गढ़ते देख इस पर आरोपी सुमित ने उसे भी मौत के घाट उतार कर दोनों को बाईक के द्वारा पास के गांव पंजोडी की बेगना नदी में खडडा खोद कर दफना दिया। जिसके बाद पुलिस ने उसके घर पर जाकर आरोपी सुमित की निशान देही पर गांव में ले जा कर जहाँ पर कमरे में बच्चे व उसकी मॉ को मौत के घाट उतरा और नदी से खुदवाई करवा कर दोनों के श्वों को बरामद कर उन्हे शवगृह में रखवा कर आरोपी समित के खिलाफ मर्डर का मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी।