Connect with us

Haryana

मोदी सरकार दिव्यांगजनों के प्रति संवेदनशील है-कृष्णपाल गुर्जर

पलवल,मुकेश बघेल । केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि मोदी सरकार दिव्यांगजनों के प्रति संवेदनशील है। केंद्र सरकार ने दिव्यांगजनों के लिए अनेक जनकल्याणकारी योजनाऐं बनाई है। सरकार के चार वर्षो के अंतराल में योजनाओं के अंतर्गत देश की 400 लोकसभा क्षेत्रों में मोटराइज्ड ट्राईसाइकिल वितरण की गई है। […]

Published

on

पलवल,मुकेश बघेल

। केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि मोदी सरकार दिव्यांगजनों के प्रति संवेदनशील है। केंद्र सरकार ने दिव्यांगजनों के लिए अनेक जनकल्याणकारी योजनाऐं बनाई है। सरकार के चार वर्षो के अंतराल में योजनाओं के अंतर्गत देश की 400 लोकसभा क्षेत्रों में मोटराइज्ड ट्राईसाइकिल वितरण की गई है। फरीदाबाद -पलवल लोकसभा क्षेत्र में सबसे ज्यादा दिव्यांगजनों को मोटराइज्ड ट्राईसाइकिल वितरित की गई है। जिनमें 276 मोटराइज्ड ट्राईसाइकिल अकेले पलवल जिला में दिव्यांगजनों को वितरित की गई है। उन्होंने कहा कि एक मोटराइज्ड ट्राईसाइकिल पर 37 हजार रूपए की लागत आती है। जिसमें 25 हजार रूपए विभाग द्वारा तथा 12 हजार रूपए सांसद निधि कोष से दिए गए है। यह मोटराइज्ड ट्राईसाइकिल एल्मिको कानपुर के सहयोग से वितरित की जा रही है।

इस अवसर पर भारतीय कृत्रिम अंग निर्माण निगम एल्मिको कानपुर के प्रबंध निदेशक डी.आर.सरीन, मुख्यमंत्री के राजनैतिक सचिव दीपक मंगला, पूर्व मंत्री सुभाष कत्याल, जिला परिषद की चेयरपर्सन चमेली देवी सोलंकी, उपायुक्त डा. मनीराम शर्मा, पुलिस अधीक्षक वसीम अकरम तथा अतिरिक्त उपायुक्त सुरेंद्र सिंह मुख्य रूप से मौजूद थे।

राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि दिव्यांगजनों को मोटराइज्ड ट्राईसाइकिल वितरित करने का मकसद दिव्यांगजनों को सशक्त व स्वावलंबन बनाकर समाज की मुख्यधारा के साथ जोडना है। उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों में दिव्यांगजनों के लिए कोई विशेष सुविधाऐं नहीं थी। दिव्यांगजनों को पुराने कृत्रिम उपकरण लगाए जाते थे। लेकिन वर्तमान सरकार ने दिव्यांगों को आधुनिक उपकरण प्रदान करने के लिए जर्मन व इंग्लैंड की कंपनियों के साथ करार किया और वर्तमान में उनकी तर्ज पर भारतीय कृत्रिम अंग निर्माण निगम (एल्मिको) कानपुर द्वारा भारत में भी आधुनिक उपकरण बनाए जाने लगे है। उन्होंने कहा कि जो बच्चे जन्म से ही मूकबधिर होते है और बोलने व सुनने में सक्षम नहीं होते हैं उनका सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा ऑप्रेशन किया जाता है जिसे कॉक्लियर इम्प्लांट सर्जरी कहते है। विभाग द्वारा कॉक्लियर इम्प्लांट सर्जरी पर 6 लाख रूपए खर्च किए जाते है। पांच साल तक के मूकबधिर बच्चे जो बोलने व सुनने में सक्षम नहीं है वह अपना रजिस्ट्रेशन जिला रैडक्रॉस सोसायटी में करवा दें ताकि उनकी निशुल्क कॉक्लियर इम्प्लांट सर्जरी विभाग द्वारा की जा सके। विभाग द्वारा 1400 से अधिक बच्चों की निशुल्क कॉक्लियर इम्प्लांट सर्जरी करा दी गई है।

केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि दिव्यांगजनों के लिए यूनिवर्सल आई कार्ड जारी किए जाएगें ताकि देश के किसी भी राज्य में जाने पर दिव्यांगजनों को सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ मिल सके। सुगम्य भारत अभियान के तहत दिव्यांगजनों को जीवन के सभी क्षेत्रों में भागीदारी करने के लिए समान अवसर प्रदान किए जाएगें। उन्होंने कहा कि विभाग द्वारा पांच साल तक के 1400 से अधिक मूक बधिर बच्चों की कॉक्लियर इम्प्लांट सर्जरी नि:शुल्क करवाई गई है। सर्जरी के बाद मूक बधिर बच्चे बोलने व सुनने में सक्षम बन चुके है। श्री कृष्णपाल गुर्जर पलवल लघु सचिवालय में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय भारत सरकार के दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग द्वारा आयोजित सामाजिक अधिकारिता शिविर एवं निशुल्क सहायक उपकरण वितरण समारोह में बतौर मुख्यतिथि लोगों को संबोधित कर रहे थे।

केंद्रीय राज्यमंत्री गुर्जर ने कहा कि सुगम्य भारत अभियान के तहत सभी सरकारी संस्थानों में दिव्यांग जनों के लिए लिफ्ट, रैम्प आदि लगवाए जा रहे है ताकि दिव्यांगजनों को आने जाने व जनसुविधाओं का लाभ मिल सके। उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों में 7 श्रेणी के दिव्यांगों को ही सरकार की योजनाओं का लाभ मिलता था लेकिन मोदी सरकार ने वर्ष 2016 में दिव्यांग सशक्तिकरण बिल पास करके 21 श्रेणी के दिव्यांगजनों को योजनाओ का लाभ दिया। दिव्यांगों को नौकरी व शिक्षा में आरक्षण का लाभ दिया गया है।

गुर्जर ने कहा कि पिछली सरकार में दिव्यांगजनों का 15 हजार बैकलॉग रिक्त पड़ा हुआ था। भाजपा सरकार ने बैकलॉग को भरते हुए 14 हजार दिव्यांगों को नौकरी प्रदान की है वहीं एक हजार दिव्यांगों को जल्द ही नौकरी प्रदान कर दी जाएगी। सरकार ने बीपीएल परिवार के बुर्जुगों के लिए व्योश्री योजना शुरू की है। जिसमें बुर्जुगों के लिए चश्मा, सुनने की मशीन, दांत आदि सुविधाऐं प्रदान की जा रही है।

श्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि फरीदाबाद-पलवल लोकसभा क्षेत्र के विकास में कोई कसर नहीं छोडी जाएगी। फिलहाल केंद्र सरकार ने नेशनल हाईवे नंबर 2 पर बदरपुर बार्डर से लेकर करमन बार्डर तक लोगों को जाम की समस्या से निजात दिलाने व पुलों का निर्माण करने के लिए 160 करोड़ रूपए की राशी स्वीकृत की है। जल्द ही ट्रेंडर प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। उन्होंने कहा कि 25-25 करोड़ रुपये की लागत से राष्ट्रीय राजमार्ग-2 पर गांव सीकरी, पृथला दूधौला चौक, हुडा चौक सेक्टर-2, तथा बामनीखेडा में फ्लाईओवर ब्रिज, अटोंहा से बामनीखेडा तक सर्विस रोड़ के लिए 10 करोड़, यूपी बॉर्डर पर उजीना ड्रेन पर पुल, बल्लभगढ में गुडगांव नहर पर पुल, रेलवे ऑवरब्रिज बल्लभगढ में 50 करोड़ रुपये की लागत से बनाया जाएगा।

भारतीय कृत्रिम अंग निर्माण निगम एल्मिको कानपुर के प्रबंध निदेशक डी.आर.सरीन ने कहा कि श्री कृष्णपाल गुर्जर तथा थाबर चंद गहलौत के मार्गदर्शन से ही दिव्यांगों के लिए एक नई पहल की शुरूआत हुई है। इनका पहला उद्देश्य दिव्यांगों को मोबेलिटी देना है, जिससे कि उन्हें अपने कार्यों के लिए एक स्थान से दूसरे स्थान तक जाने में किसी प्रकार की समस्या ना हो।

मुख्यमंत्री के राजनैतिक सचिव दीपक मंगला ने कहा कि वर्तमान सरकार प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी व प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री मनोहलाल के कुशल नेतृत्व में बिना किसी भेदभाव के विकास कार्य करवाए जा रहे हैं। सरकार सबका साथ-सबका विकास की तर्ज पर पंक्ति में खड़े अंतिम व्यक्ति का जनकल्याणकारी योजनाओं को लाभ पहुचाने में अपनी अहम भूमिका निभा रही है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय मंत्री श्री गर्जर ने विकास कार्यों के साथ-साथ सामाजिक कार्यों में भी कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है।

उपायुक्त डा. मनीराम शर्मा ने कहा कि जिन दिव्यांगों को इस योजना का लाभ नहीं मिला है वे जिला रैडक्रॉस सोसायटी पलवल के कार्यालय में अपना पंजीकरण करवाएं ताकि आगामी शिविरों में उन्हें इस योजना का लाभ प्रदान किया जा सके। उन्होंने लाभार्थियों से कहा कि वे ं मोटराईज्ड ट्राईसाइकिल की बुकलैट के माध्यम से मोटराईज्ड ट्राईसाइकिल का रखरखाव एवं इसे चलाने की विधि को विस्तार से पढे तथा इसका प्रयोग सही तरीके से करें तथा अपने प्रति सावधानी बरतें।

केंद्रीय राज्यमंत्री ने दीप प्रज्जवलित करके कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस अवसर पर जिला सूचना एवं जनसंपर्क विभाग पलवल की राजाराम भजनपार्टी द्वारा सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का भजनों के माध्यम से बखान किया गया। उनके द्वारा दिव्यांगजनों पर गाए गीत को लोगों ने खूब सराहा।

इस अवसर पर जिला परिषद के वाईस चेयरमैन संतराम बैसला, मार्किट कमेटी पलवल के चेयरमैन रणवीर सिंह मनोज, मार्किट कमेटी हथीन के चेयरमैन लेखराज, पलवल निगरानी समिति के चेयरमैन मुकेश सिंगला, अधिवक्ता अविनाश भारद्वाज, जिला रैडक्रॉस सोसायटी सचिव बिजेंद्र सौरोत सहित अनेक गांवों के पंच-सरपंच एवं गणमान्य लोग तथा अधिकारी मौजूद थे।

000

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *