Connect with us

Haryana

आमजन के कार्यों में किसी प्रकार की ढि़लाई सहन नहीं होगी: वीरेंद्र सांगवान

सत्यखबर,सफीदों ( सत्यदेव शर्मा   ) अच्छी सडक़े उपलब्ध करवाना प्रशासन की जिम्मेवारी तो है लेकिन उसके साथ-साथ गांव में आपसी सहमति भी बहुत जरूरी है। यह बात एसडीएम वीरेंद्र सांगवान ने कही। वे मंगलवार को उपमंडल के डिडवाड़ा गांव में आयोजित जनता दरबार के पश्चात गांव मे टूटी हुई सडक़ निर्माण हेतु मौका देखने पहुंचे थे। […]

Published

on

सत्यखबर,सफीदों ( सत्यदेव शर्मा   )

अच्छी सडक़े उपलब्ध करवाना प्रशासन की जिम्मेवारी तो है लेकिन उसके साथ-साथ गांव में आपसी सहमति भी बहुत जरूरी है। यह बात एसडीएम वीरेंद्र सांगवान ने कही। वे मंगलवार को उपमंडल के डिडवाड़ा गांव में आयोजित जनता दरबार के पश्चात गांव मे टूटी हुई सडक़ निर्माण हेतु मौका देखने पहुंचे थे। गौरतलब है कि पिछले काफी समय से गांव में एक सडक़ का निर्माण नहीं हो पा रहा था जिसका आज एसडीएम की मध्यस्तता के बाद निर्माण का रास्ता साफ हो गया। एसडीएम ने स्वयं जाकर सडक़ का मौका देखा और आपसी सहमति होने के पश्चात अधिकारियों को एक सप्ताह के अंदर सडक़ निर्माण शुरू करने के निर्देश जारी किए। इस मौके पर डीएसपी सुनील कुमार, तहसीलदार वजीर सिंह, बीडीपीओ नरेश शर्मा, निगरानी कमेटी के अध्यक्ष गुरप्रीत नत्त प्रमुख रूप से मौजूद थे। एसडीएम के निर्देशानुसार जनता दरबार में आवेदकों के लर्निंग लाइसेंस बनाने के साथ ही ग्रामीणों की बिजली सम्बंधित समस्याओं के निपटान हेतु स्टाल लगाया गया, जिसका लाभ उठाते हुए गांव व आसपास के युवाओं ने अपने लर्निंग लाईसेंस के लिए आवेदन किया और ग्रामीणों ने आधार कार्ड बनवाएं। जनता दरबार में मुख्य शिकायत बिजली के जर्जर हो चुके और गलियों में लटक रहे तारों को सही करवाने को लेकर रही, जिस पर संज्ञान लेते हुए एसडीएम ने मौके पर ही बिजली विभाग के अधिकारियों को नए पोल लगवाकर बिजली के तार ठीक करने के आदेश दिए। इस अवसर पर अपने संबोधन में एसडीएम विरेंद्र सांगवान ने कहा कि गौवंश की रक्षा करना हम सब का दायित्व है और इस कार्य के लिए समाज के हर वर्ग को आगे आना चाहिए। उन्होंने ग्रामीणों से नंदीशाला के लिए अधिक से अधिक चारा पहुंचाने की अपील की।