Connect with us

Haryana

किसान संगठन : किसानों का इम्तिहान ले रही है सरकार

Published

on

सत्यखबर

सरकार कृषि क्षेत्र में लागू तीनों कानूनों को वापस न लेकर व आंदोलनरत किसानों के सब्र का इम्तिहान ले रही है। किसान किसी भी सूरत में मांगें पूरी नहीं होने तक धरनारत रहेंगे। कई किसानों की जान जा चुकी हैं। भाजपा को समय आने पर इसका जवाब देना होगा।

हिसार : अपने साथी की ईट व डंडे मारकर कर दी थी हत्या, जानिए क्या था मामला

यह बात इनेलो प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य राज गागड़वास ने बाढड़ा में भाकियू अध्यक्ष धर्मपाल की अध्यक्षता में आयोजित धरने को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि देश में जनतंत्र है और सरकार को किसी दबाव में आकर मनमर्जी के कानून नहीं थोपना चाहिए। केंद्र सरकार ने पहले तो किसानों पर थोपे गए काले कानून वापस लेने से इन्कार कर दिया और फिर आंदोलन करने पर किसानों को परेशान कर रही है। यह अनुचित है। दिल्ली सीमा समेत देश भर में संचालित धरने प्रदर्शनों में शांतिपूर्ण ढंग से किसान अपनी आवाज उठा रहे हैं। लेकिन सरकार लाल किला प्रकरण में किसान को ही दोषी ठहराकर उनको जेल में डालने की कोशिश कर रही है। गाजीपुर, सिघु बार्डर पर निर्दोष किसानों पर अत्याचार किया गया तो देश के किसान ने एकजुटता से सरकार को पीछे हटने पर मजबूर कर दिया। किसानों को अपने हकों के लिए किसी तरह के दबाव सहने की नहीं मुखरता से आवाज बुलंद करने की जरूरत है।

6 Comments

6 Comments

  1. Pingback: हरियाणा में बढ़ने लगा तापमान, सुबह शाम रहेगी ठंड – Satya khabar india | Hindi News | न्यूज़ इन हिंदी | Breaking News in Hindi | Satya khabar india N

  2. Pingback: चक्का जाम को विभिन्न संगठनों ने दिया समर्थन – Satya khabar india | Hindi News | न्यूज़ इन हिंदी | Breaking News in Hindi | Satya khabar india News

  3. Pingback: फरीदाबाद के OYO होटल के कमरे में फंदे से लटका मिला था विशाल, जानिए क्या था मामला – Satya khabar india | Hindi News | न्यू

  4. Pingback: टिकैत राकेश : सारी कीलें निकाल कर ही लौैटेंगे – Satya khabar india | Hindi News | न्यूज़ इन हिंदी | Breaking News in Hindi | Satya khabar india News

  5. Pingback: राकेश टिकैत का सरकार पर जुबानी वार, चिंता न करो सारी किले निकाल कर घर जाएंगे – Satya khabar india | Hindi News | न्यूज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *