Connect with us

Haryana

महिलाओ सहित दलित समुदाय के लोग उतरे सडको पर,शहर की सडको पर किया जोरदार प्रदर्शन

सत्यखबर,झज्जर (संजीत खन्ना ) एसएसी एक्ट में किए गए बदलाव को लेकर लगातार दलित समुदाय के लोगो में खासा रोष बना हुआ है। इस फैसले के बाद से दलित समुदाय के लोग पूरे प्रदेश में प्रदर्शन कर रहे है। मौजुदा सरकार के हितेषी कहे जाने वाला दलित समाज इस फैसले के बाद सरकार बिल्कुल निराश […]

Published

on

सत्यखबर,झज्जर (संजीत खन्ना )

एसएसी एक्ट में किए गए बदलाव को लेकर लगातार दलित समुदाय के लोगो में खासा रोष बना हुआ है। इस फैसले के बाद से दलित समुदाय के लोग पूरे प्रदेश में प्रदर्शन कर रहे है। मौजुदा सरकार के हितेषी कहे जाने वाला दलित समाज इस फैसले के बाद सरकार बिल्कुल निराश दिखाई दे रहा है। समाज के लोगो ने शुक्रवार को झज्जर में जोरदार प्रदर्शन किया। शहर के सडको पर काले झंडे लेकर प्रदर्शन किया। महिलाओ सहित सैकडो की तादात में दलित समाज के लोग सडको पर उतरे। प्रदर्शन करते हुए समाज के लोग जिला सचिवालय पहुंंचे। जहां उन्होने जिला उपायुक्त के माध्यम से प्रधानमंंत्री के नाम ज्ञापन सौपा। वही इस दौरान सफाई कर्मचारी भी खुलकर समर्थन में आए और सरकार को दो अप्रेल तक मांगे ना मानने पर पूरे भारत में सफाई बंद करने की चेतावनी तक दे डाली। समाज लोगो का कहना है कि सरकार द्वारा इस फैसले में किसी तरह का हस्तक्षेप नही किया गया। सरकार से जिस हस्तक्षेप की उम्मीद थी , सरकार दूर दूर तक इस फैसले के बाद दलितो के साथ खडी नजर नही आई। लोगो की माने तो वर्षा पुराने इस एक्ट को खत्म करने से उन पर अत्याचार और ज्याद बढेगें और खुली हवा में सांस तक नही ले पाऐेंगे। ऐसे में सरकार को तुरंत प्रभाव  इस फैसले में हस्तक्षेप करते हुए वापस कराए अन्यथा दलित समाज जल्द ही बहुत बडा आंदोलन करेगा। साथ ही आगामी चुनाव में खुलकर बीजेपी का विरोध और बहिष्कार करेगा। खैर अब तक दलित समाज को मौजूदा सरकार का हितेषी माना जाता था, लेकिन इस फेसलेे के बाद समाज के लोगो का मौजुदा सरकार से विश्वास उठ गया है। वही सही मायने मे देखा जाए तो इस फैसले के बाद मौजूदा सरकार को गंभीर परिणाम भुगतने पड सकते है। क्योकि एक तरफ जहां मौजूदा सरकार से आरक्षण को लेकर जाट समुदाय लगातार नाराज चल रहा है तो वही दुसरी तरफ इस फैसले ने भी दलित समाज को सरकार से किनारा करने पर मजबूर कर दिया है।