Connect with us

Chandigarh

बिजली पर होने वाला खर्च बचाने के लिए सौर पंपों पर 75 फीसद अनुदान (हरियाणा)

Published

on

सत्यखबर, चढ़ीगढ़

बता दे की हरियाणा में बिजली की बचत के साथ ही उस पर होने वाला खर्च बचाने के लिए सरकार सौर ऊर्जा संचालित उपकरणों को बढ़ावा देगी। इसके पीछे पर्यावरण संरक्षण की मंशा भी है। इसके लिए सरकार ने 300 वॉट व 500 वॉट के घरेलू इन्वर्टर चार्जिंग सिस्टम व संबंधित उपकरणों पर छह हजार रुपये व 10 हजार रुपये का अनुदान देने का निर्णय लिया है। इसके लिए लाभार्थी के पास अपना इन्वर्टर एवं बैटरी होनी चाहिए। खेतों में सौर ऊर्जा से चलने वाले सिंचाई पंप पर भी सरकार अनुदान देगी। तीन हार्सपावर, पांच हार्सपावर व साढ़े सात हार्सपावर और 10 हार्सपावर तक के सौर पंप हरियाणा सरकार उपलब्ध कराएगी।

इसके साथ ही हरियाणा के बिजली तथा नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री रणजीत सिंह चौटाला के अनुसार इन सौर पंपों पर सरकार की ओर से 75 फीसद अनुदान दिया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत अनुदान का लाभ उन किसानों को मिलेगा, जो अपने खेत में स्प्रिंकलर सेट (फव्वारा सिस्टम), ड्रिप सिस्टम (टपका सिंचाई) अथवा भूमिगत पाइप लाइन का उपयोग करेंगे। घरेलू, संस्थानिक एवं वाणिज्य भवनों के बिजली बिलों में कमी लाने के लिए ग्रिड आधारित रूफ टॉप पावर प्लांट लगाने वालों को भी सरकार ने अनुदान देने का निर्णय लिया है। एक से 10 केडब्ल्यू के घरेलू पावर प्लांट पर 40 फीसद अनुदान दिया जाएगा।